काली मिर्च है बहुत कमाल की

16 जनवरी 2019   |  मिताली जैन   (55 बार पढ़ा जा चुका है)

काली मिर्च है बहुत कमाल की

आज के समय में लोगों की गलत लाइफस्टाइल कई तरह की बीमारियों की वजह बनती हैं। अमूमन किसी भी तरह की परेशानी होने पर लोग दवाईयों का ही सहारा लेना पसंद करते हैं लेकिन अगर आप चाहें तो बिना दवाईयों के भी बहुत सी छोटी-छोटी परेशानियों को आसानी से दूर कर सकते हैं। खासतौर से, आपकी किचन में मौजूद काली मिर्च एक ऐसा मसाला है जो कई गंभीर रोगों से आपको बचाने में सक्षम हैं। इसमें आयरन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, जिंक, क्रोमियम, विटामिन ए, विटामिन सी व अन्य कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं। तो चलिए जानते हैं काली मिर्च से कैसे करें बीमारियों को दूर-


मोटापा होगा दूर


अगर आप अपने मोटापे से परेशान हैं और उससे निजात पाना चाहते हैं तो काली मिर्च का सेवन करें। इसके लिए आप हर दिन अपनी बनी हुई सब्जी में एक चुटकी काली मिर्च पाउडर मिक्स करें। इसके अतिरिक्त आप अपने सलाद व दही आदि में भी इसे मिलाकर सेवन कर सकते है। नियमित रूप से काली मिर्च का सेवन करने से धीरे-धीरे मोटापा कम होने लगेगा।


पेट को रखे स्वस्थ


पेट संबंधी परेशानियों से निजात पाने में काली मिर्च काफी मददगार हो सकती है। इसके लिए आप भोजन बनाते समय काली मिर्च पाउडर मिलाएं। यह भोजन को स्वादिष्ट तो बनाती है ही, साथ ही पेट को भी स्वस्थ रखती है। वहीं अगर आपको अपच है, तो छाछ में भुना हुआ जीरा व काली मिर्च पाउडर मिक्स करके पीएं। इसके अतिरिक्त अपच के साथ-साथ पेट में गैस व एसिडिटी होने पर अपने मेन मील में काली मिर्च, लहसुन की कलियां, लौंग व सेंधा नमक मिक्स करके सेवन करें।


मिलेगी निखरी त्वचा


जो लोग क्लीन एंड क्लीयर स्किन पाने की चाह रखते हैं, उन्हें भी काली मिर्च का इस्तेमाल करना चाहिए। इसके लिए काली मिर्च को मोटा पीसकर उसका फेस पैक स्किन पर लगाएं और करीबन 15 मिनट बाद हल्के गुनगुने पानी से चेहरा वाॅश कर लें। वहीं अगर आपको मस्सों की समस्या है तो काली मिर्च और फिटकरी को बराबर मात्रा में लेकर पीस लीजिए। अब इसमें थोड़ा सा पानी मिलाएं और रूई या अन्य किसी चीज की सहायता से मस्सों पर दिन में तीन बार लगाएं। कुछ दिनों तक यह उपचार करने से मस्से खुद ब खुद झड़ जाएंगे।


कफ होने पर


अगर सर्दी के मौसम में आपको छाती में कफ जम गया है तो उसे क्लीयर करने के लिए काली मिर्च की मदद लें। कंजेशन को दूर करने के लिए एक गिलास गुनगुने पानी में काली मिर्च का पाउडर मिक्स करके पीएं। वहीं अगर आपकी नाक बह रही है या कफ के कारण सांस लेने में परेशानी हो रही है तो गर्म सूप या रसम में काली मिर्च को पीसकर उस पर छिड़कें। इससे आपको सांस लेने में आसानी होगी।


रूसी को कहें अलविदा


काली मिर्च रूसी को भी बेहद प्रभावी तरीके से दूर करती है। इसके लिए एक टीस्पून काली मिर्च पाउडर को एक कप दही में मिक्स करें। अब इसे स्कैल्प पर अप्लाई करके करीबन आधा घंटे के लिए छोड़ दें। अब बालों को पानी की मदद से साफ करें। इस समय बालों में शैंपू न लगाएं बल्कि अगले दिन सुबह उठकर शैंपू लगाएं। एक बात का ख्याल रखें कि काली मिर्च का बहुत अधिक प्रयोग न करें, वरना आपको स्कैल्प में जलन हो सकती है।


अगर काटे मच्छर


मच्छर के काटने में काफी खुजली व जलन होती है और स्किन को राहत दिलाने के लिए एलोवेरा जेल में काली मिर्च पाउडर मिक्स करें। अब इसे उसे स्थान पर अप्लाई करें, जहां पर मच्छर ने काटा हो। इससे आपको काफी राहत मिलेगी।


दांत दर्द करे दूर


दांत में दर्द होने पर काली मिर्च का प्रयोग करें। इसके लिए नमक और काली मिर्च पाउडर को बराबर मात्रा में मिक्स करें। अब इसमें थोड़ा पानी मिलाकर पेस्ट तैयार करें। अब इस पेस्ट को प्रभावित स्थान पर लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। अब पानी की मदद से कुल्ला करें। वहीं अगर आपके मुंह में छाले हो गए हैं तो किशमिश में काली मिर्च मिलाकर दस से पंद्रह दिनों तक इसका सेवन करें।


कोल्ड होने पर


ठंड के मौसम में कोल्ड होना एक आम बात है। कोल्ड होने पर काली मिर्च का सेवन बेहद लाभदायी होता है। दरअसल, काली मिर्च एंटी बैक्टीरियल व एंटीबायोटिक होता है और विटामिन सी होने के कारण यह इम्युन सिस्टम को भी मजबूत बनाती है। इसके सेवन के लिए काली मिर्च को क्रश करके उसमें शहद मिलाएं। आप इसमें थोड़ा सा गर्म पानी मिलाकर उसका सेवन कर सकते हैं। इस मिश्रण को सर्दी के दिनों में हर सुबह इस्तेमाल करें।


रेग्युलेट करे पीरियड्स


मासिक धर्म किसी भी महिला के लिए एक नेचुरल प्रोसेस है, लेकिन इस दौरान महिलाओं को कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। अगर किसी महिला को अनियमित पीरियड्स की समस्या है तो एक चम्मच शहद में काली मिर्च मिलाएं और इसका सेवन करें। लगातार दो महीनों तक इसका सेवन करने से अनियमित पीरियड्स की परेशानीे से छुटकारा मिलता है।


पेट में कीड़े होने पर


अगर पेट में कीड़े हो गए हैं और जिसकी वजह से वजन कम हो रहा है। तो काली मिर्च का प्रयोग करें। इसके लिए छाछ में काली मिर्च पाउडर व काला नमक मिलाकर उसका इस्तेमाल करें।


दूर होगा बुखार


किसी भी तरह का बुखार होने पर काली मिर्च का प्रयोग किया जा सकता है। इसके लिए काली मिर्च में सेंधा नमक और नीम के पत्ते मिलाकर पीसें। अब आप इसमें थोड़ा सा पानी मिलाकर सेवन करें। इसका सेवन हमेशा खाली पेट ही करें और इसके सेवन के बाद करीबन दो घंटे तक कुछ न खाएं।


टाॅन्सिल का उपचार


गले में टाॅन्सिल की समस्या लोगों में बेहद आम होती है, लेकिन वास्तव में यह काफी तकलीफदेह होती है। इसके उपचार के लिए काली मिर्च काम आएगी। गले में टाॅन्सिल की समस्या को दूर करने के लिए काली मिर्च और तुलसी के पत्तों को उबालकर काढ़ा बनाएं और रात को सोने से पहले दूध में डालकर इसका सेवन करें।


बाल करे काले


अगर किसी के बाल असमय सफेद हो रहे हैं तो काली मिर्च को पानी में डालकर उबालें। अब बाल वाॅश करने के बाद उस पानी को बालों में इस्तेमाल करें। इससे बाल लंबे समय तक काले बने रहेंगे।



शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये