बड़ी से बड़ी बीमारियों को मात देते हैं पपीते के पत्ते

19 फरवरी 2019   |  मिताली जैन   (88 बार पढ़ा जा चुका है)

बड़ी से बड़ी बीमारियों को मात देते हैं पपीते के पत्ते

पपीते का एक ऐसा फल है, जो हर मौसम में आसानी से मिल जाता है। स्वाद से भरपूर यह फल सेहत के लिए भी कई मायनों में लाभदायक है। यूं तो लोग पपीते का सेवन करते हैं लेकिन इसके पत्तों को बेकार समझकर फेंक देते हैं। शायद आपको पता न हो लेकिन पपीते के पत्ते भी उतने ही गुणकारी है। इतना ही नहीं, यह कई बड़ी बीमारियों को मात देने की क्षमता रखते हैं। तो चलिए जानते हैं पपीते के पत्ते से होने वाले स्वास्थ्य लाभों के बारे में−


भरपूर होते हैं पोषक तत्व


जिस तरह पपीते में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, ठीक उसी तरह पपीते के पत्ते भी पोषक तत्वों से पूरी तरह पैक होते हैं। पपीते के पत्ते में विटामिन ए, बी, सी, डी और ई के साथ−साथ एंटीऑक्सीडेंट्स, फलेवोनोइड्स, कैरोटीन पाया जाता है। इतना ही नहीं, इसमें थ्रेओनाइन, ग्लूटामेट एसिड, ग्लाइसीन, वेलिन, ल्यूसीन, लाइसिन, हिस्टीडाइन, एलानिन, प्रोलाइन जैसे 50 से अधिक अमीनो एसिड व पाचन एंजाइम्स भी होते हैं। यह पाचन एंजाइम्स शरीर में प्रोटीन, कार्बोहाइडेट व वसा को पचाने में मदद करते हैं। इस प्रकार पपीते के पत्ते में पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर के लिए किसी वरदान से कम नहीं है


कैंसर को दे मात


पपीते के पत्ते कैंसर से लड़ने में अपनी सक्रिय भूमिता निभाते हैं। पपीते के पत्ते में एंटीबैक्टीरियल तत्व व एसीटोजेन नामक तत्व पाया जाता है, जो न सिर्फ कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकता है, बल्कि उन्हें मारने में भी मददगार है। खासतौर से, गर्भाशय ग्रीवा, प्रोस्टेट, यकृत, स्तन व फेफड़ों के कैंसर से ल़ड़ने में यह बेहद फायदेमंद है।


मजबूत होगा इम्युन सिस्टम


पपीते के पत्ते एक ओर जहां कई तरह की बीमारियों से लड़ते हैं, वहीं शरीर को भी इतना मजबूत बनाते हैं कि जल्दी से बीमारी आपको न घेरे। अगर आप इसका सेवन करते हैं, तो इससे व्यक्ति का इम्युन सिस्टम मजबूत होता है। दरअसल, पपीते के पत्तों में कई तरह के शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूती प्रदान करते हैं। अगर इसके रस का सेवन किया जाए तो खून में व्हाइट ब्लड सेल्स की मात्रा बढ़ जाती है।


बढ़ाए भूख


कभी पाचनतंत्र के सही तरह काम न करने तो कभी तनाव के कारण व्यक्ति की भूख पर विपरीत असर पड़ता है। ऐसे व्यक्ति अक्सर भूख न लगने या फिर बेहद कम भोजन करते हैं, जिनके कारण उनका स्वास्थ्य प्रभावित होता है। ऐसे लोगों के लिए भी पपीते के पत्ते बेहद लाभदायक है। भूख बढ़ाने के लिए आप चाय में पपीते की दो पत्तियों को डालें और नियमित रूप से इसका सेवन करें। कुछ ही दिनों में आपको इसका असर दिखने लगेगा। इसके अतिरिक्त पपीते के पत्ते पाचनतंत्र संबंधी अन्य परेशानियों जैसे कब्ज आदि से भी राहत दिलाते हैं। पपीते की पत्तियों के रस में पाया जाने वाला पपैन नामक एंजाइम जटिल प्रोटीन को सरल कणों में तोड़कर पाचन क्रिया को सरल बना देता है। इसके अतिरिक्त इसमें कई तरह के विटामिन्स, प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, कैल्सीयम, फास्फोरस, आयरन, सोडियम, मैग्नीशियम व फाइबर आदि पाए जाते हैं जो पाचन तंत्र के लिए बेहद लाभदायक होते हैं। फाइबर आँतों की दीवारों को चिकना और मल को मुलायम कर देता है जिससे कि कब्ज की समस्या दूर होती है।


लडे़ डेंगू से


हर साल डेंगू की वजह कई लोग अपनी जान यूं ही गंवा देते हैं, लेकिन अगर आप चाहें तो पपीते के पत्तों की मदद से इस जानलेवा बीमारी से लड़ सकते हैं। वास्तव में, डेंगू होने पर व्यक्ति के प्लेटलेट्स गिरने लगते हैं। लेकिन पपीते के पत्ते शरीर में खून बढ़ाने का काम करते हैं। जब आप इसके पत्तों का रस पीते हैं तो इससे शरीर में प्लेटलेटस की संख्या काफी तेजी से बढ़ने लगती है। वैसे डेंगू के अतिरिक्त मलेरिया व चिकनगुनिया के रोगियों के लिए भी पपीते के पत्तों का रस बेहद फायदेमंद है।


लिवर के लिए लाभदायक


पपीते के पत्तों के रस का सेवन करने का एक सबसे बड़ा लाभ यह होता है कि यह लिवर की सफाई करने में अहम भूमिका निभाता है। जब लीवर की भीतर से सफाई होती है तो इससे व्यक्ति कई तरह की लिवर की बीमारियों जैसे जॉन्डिस व लिवर सिरोसिस से अपना बचाव कर लेता है।


बचाएं संक्रमण से


पपीते के पत्ते में सिर्फ एंटी-आॅक्सीडेंट ही भरपूर मात्रा में नहीं पाए जाते, बल्कि इसमें मौजूद अन्य कई तत्व शरीर में बैक्टीरिया की ग्रोथ रोकने में भी सहायक है।


महिलाओं के लिए उपयोगी


पपीते के पत्तों के रस का सेवन महिलाओं के लिए विशेष उपयोगी माना गया है। खासतौर से, जिन महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान काफी दर्द होता है, उन्हें पपीते के पत्तों के रस का सेवन अवश्य करना चाहिए। पीरियड्स में होने वाले दर्द से निजात पाने के लिए पपीते की पत्ती को इमली, नमक और 1 ग्लास पानी के साथ मिलाकर काढ़ा बनाएं और इसका सेवन करें।


स्किन का रखे ख्याल


जहां एक ओर पपीते के पत्ते आपकी सेहत का ख्याल रखते हैं, वहीं दूसरी ओर यह सौंदर्य के लिए भी बेहद फायदेमंद होते हैं। अगर आप पिंपल्स से परेशान है और एक क्लीयर स्किन पाना चाहते हैं तो ऐसे में पपीते की सुखी पत्तियों को लेकर पानी के साथ पेस्ट बना लें। इस पेस्ट को चेहरे पर लगा लें और सुख जाने के बाद गुनगुने पानी से धो लें। ऐसा करने से कुछ ही दिनों में पिंपल्स दूर हो जाएंगे।


घटाए वजन


आपको शायद पता न हो लेकिन पपीते के पत्ते वजन घटाने में भी बेहद उपयोगी है। जो लोग मोटापे से ग्रस्त हैं, उन्हें पपीते के पत्ते के रस का सेवन अवश्य करना चाहिए। सबसे पहले तो यह पाचनतंत्र को बेहतर तरीके से काम करने के लिए प्रेरित करता है, जिसके कारण भोजन फैट के रूप में स्टोर होने की बजाय उर्जा में तब्दील होता है। वहीं यह मेटाबाॅलिज्म को भी बूस्ट अप करता है, जिससे वेटलाॅस तेजी से होता है। वेट लाॅस करने के लिए एक बर्तन में थोड़ा पानी लें और उसमें पपीते ही ताजा पत्तियाँ और संतरे के कुछ फांक डालें। इन को एक आँच पर रखकर उबलने दें और कुछ समय बाद इसे उतार कर ठंडा होने दें। ठंडा होने पर इस को पियें। यह शरीर से अतिरिक्त वसा को हटा देता है


घावों का इलाज


पपीते की पत्तियों से निकाला गया रस घावों को जल्दी भरने में मदद करता है। यदि आपको चोट लग गई हो तो पपीते की पत्तियों का रस चोटिल जगह पर लगाए। यह न सिर्फ घावों को भरेगा बल्कि दर्द से भी मुक्ति देगा।


ऐसे बनाएं पपीते की पत्तियों का जूस


अब आपने यह तो जान लिया कि पपीते के पत्तों का रस किसी औषधि से कम नहीं है तो अब आप इसे बनाने का तरीका भी जान लें। पपीते की पत्तियों का जूस बनाने के लिए सबसे पहले एक बर्तन में थोड़ा सा पानी लें। अब पपीते की ताजा पत्तियां लेकर उसे अच्छे से धोएं ताकि उसमें किसी तरह की गंदगी न रहे। इसके बाद पानी में ताजा पपीते की पत्तियाँ काटकर डालें। अब इसे उबलने के लिए आँच पर रख दें और इसे ढके ना। जब यह अच्छे से उबल जाए और पानी थोड़ा सा हरा दिखने लगे तो इसे आँच से उतार लें। इसको छन्नी से छानें और उसका सेवन करें।



शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये