सेक्स से जुड़ी समस्याओं की जानकारी हिंदी में | Sex Problem In Hindi

25 मार्च 2019   |  डॉ मुकुल पांडेय   (384 बार पढ़ा जा चुका है)

सेक्स से जुड़ी समस्याओं की जानकारी हिंदी में | Sex Problem In Hindi

पुरुषों और महिलाओं में सेक्स और यौन समस्या होना एक गंभीर बीमारी बन चुकी है और इस बीमारी को लेकर सजग हो जाना बेहद जरुरी है। सेक्स की समस्या से लाखों लोग प्रभावित है। आज हम आपको कुछ ऐसी ही सेक्स से जुड़ी समस्याओं की जानकारी के बारें में बताएंगे जिस कारण से सेक्स को लेकर दिक्कत होती है। सेक्स की समस्या को लेकर खासकर पुरुष बहुत चिंतित रहते है। यौन समस्या होने के कारण सेक्स में काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। तनाव और अन्य कई शारीरिक कारणों से भी सेक्स करने में संबंधी समस्या उत्पन्न हो सकती है। सेक्स की समस्या होने के कारण मनुष्य की सेक्स करने की इच्छा खत्म हो जाती है जिससे वह अपने वैवाहिक जीवन में खुशहाल नहीं रह पाता है जिसके कारण कई सारे समस्याएं उत्पन्न हो जाती है। सेक्स से जुड़ी समस्याओं के प्रमुख कारण निम्न है जिसके कारण सेक्स की समस्या उत्पन्न होती है।


नपुंसकता की समस्या- पुरुषों में नपुंसकता की समस्या तब उत्पन्न होती है, जब कोई व्यक्ति इरेक्शन (erection) प्राप्त नहीं कर पाता है। इरेक्शन लिंग को खड़ा करने और सख्त रखने की क्रिया होती है। अतः सेक्स के दौरान इरेक्शन में कमी नपुंसकता के रूप में जाना जाता है। ज्यादातर पुरुषों में इस समस्या का प्रमुख कारण शारीरिक या मनोवैज्ञानिक हो सकता है। कुछ बीमारियों के कारण जैसे- ह्रदय रोग, शुगर और उच्च रक्तचाप नपुंसकता का कारण बन सकती है। जब कोई व्यक्ति अधिक धूम्रपान और शराब का सेवन करता है तो वह नपुंसकता का कारण बन सकती है।


शीघ्रपतन की समस्या- शीघ्रपतन यानि शीघ्र स्खलन का होना सेक्स के समय बहुत ही सामान्य समस्या है। इसमें सेक्स के चरम पर पहुंचने से पहले ही वीर्यपात हो जाता है जिस कारण सेक्स जोड़ो को प्रभावित कर सकती है। जल्दी वीर्यपात होने का मुख्य कारण मनोवैज्ञानिक होता है जिसमें सेक्स पार्टनर में तनाव, चिंता और अवसाद की स्थिति होने पर होता है। वीर्यस्खलन का कोई एक निश्चित समय तो नहीं होता है लेकिन ऐसा लगातार होना गंभीर सेक्स समस्या को बढ़ावा देता है।


यौन इच्छा की कमी की समस्या- काम की इच्छा में कमी होने का आशय सेक्स करने में रुचि या दिलचस्पी नहीं लेना होता है। कई पुरुषों में यह समस्या काफी गंभीर हो जाती है। यह मानसिक विकारों के साथ उत्पन्न होती है और लंबे समय के बाद गंभीर हो जाती है। कामेच्छा की कमी का कारण रक्त में उपस्थित टेस्टोस्टेरोन हार्मोन के कारण मस्तिष्क में साथी के प्रति सेक्स करने की इच्छा को बढ़ावा देता है। मस्तिष्क रोग, मानसिक चिंता, अवसाद और गंभीर बीमारियां जो इस हार्मोन पर असर डालती है जिस कारण सेक्स करने की इच्छा में कमी आती है।



हस्तमैथुन के कारण- कुछ पुरुष यौन संबंध बनाते समय काफी लंबे समय तक स्खलन नहीं होने पर इस प्रक्रिया को अपनाकर वीर्यपात करते है। हांलाकि हस्तमैथुन के कारण वीर्यपात तो आसानी से हो जाता है लेकिन इसका विपरीत प्रभाव मानव शरीर पर पड़ता है। वहीं कुछ लोग सेक्स की उत्तेजना के चलते सेक्स इच्छा के होने के कारण इस प्रक्रिया को अपनाते है। पोनोग्राफी के चलते भी कुछ युवक इस क्रिया को अपनाकर सेक्स की समस्या को बढ़ावा देते है।


स्वप्नदोष के कारण- स्वप्नदोष एक स्वाभाविक क्रिया है जिसमें से रात के समय यह सेक्स की इच्छा के कारण यह बीमारी ऊभरकर सामने आती है।इसमें अनैच्छिक स्खलन होता है। यह सभी उम्र के पुरुषों को प्रभावित करती है, हालांकि 18 से 30 वर्ष की आयु के पुरुष इससे सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं। नींद के दौरान वीर्यपात होना शरीर में हार्मोनल परिवर्तनों के लिए जिम्मेदार होता है। युवावस्था की शुरुआत के साथ यौन इच्छाओं के साथ हार्मोनल परिवर्तन उत्तेजना उत्पन्न करते हैं और रात के अंत तक अपने चरम तक पहुंच सकते हैं। जिससे नाइटफॉल या स्‍वप्‍नदोष होने की सम्भावना बढ़ जाती है।




शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये