लिंग में तनाव की कमी || Ling Me Tanav Ki Kami

26 मार्च 2019   |  डॉ मुकुल पांडेय   (254 बार पढ़ा जा चुका है)

लिंग में तनाव की कमी || Ling Me Tanav Ki Kami

आजकल पुरुषों की भागदौड़ भरी जिंदगी में वह अपने शारीरिक स्वास्थ्य के बारें ध्यान बहुत कम रख पाता है जिस कारण वह तमाम प्रकार की बीमारियों से घिर जाता है। चिंता,थकान,अवसाद और मानसिक तनाव के कारण वह अपने दांपत्य जीवन का भरपूर आनंद भी नहीं ले पाता है। सेक्स की समस्या से जूझ रहे पुरुषों में एक गंभीर समस्या लिंग में तनाव की कमी भी मानी जाती है जिस कारण पुरुष अपने सेक्स लाइफ का भरपूर आनंद लेने अक्षम हो जाता है। इसका प्रभाव उसके दांपत्य जीवन पर भी पड़ता है जो बाद में काफी गंभीर हो जाता है। लिंग में तनाव की कमी की समस्या पुरुषों में किसी अभिशाप से कम नहीं है। आज हम लिंग में तनाव की कमी के बारें में Ling Me Tanav Ki Kami के कारण के बारें में बताएंगे। जब मानव किसी महिला के साथ संबंध स्थापित करने के बारें में सोचता है तो मस्तिष्क में एक प्रकार सिग्नल पहुंचाता है, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन के कारण हॉर्मोन की कमी होने के कारण लिंग में तनाव की कमी महसूस होती है। जिस कारण पुरुषों में सेक्स की कामेच्छा की कमी हो जाती है।


लिंग में तनाव की कमी


लिंग में उत्तेजना का आना एक जटिल शारीरिक व मानसिक प्रक्रिया है जो हार्मोन के कारण निश्चित होता है इसमें किसी भी प्रकार की कमी होने पर यह लिंग को उत्तेजित होने की कमी को प्रदर्शित करता है। आइए जानते है आखिर किन कारणों से लिंग में तनाव की कमी Ling Me Tanav Ki Kami हो जाती है-


मांसपेशियों का कमजोर पड़ना- शरीर में मांसपेशियों का बहुत महत्व है यहीं मांसपेशियां जब कमजोर पड़ने लगती है मानव शरीर में कई प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो जाती है। लिंग की जड़ में काम करने वाली मांसपेशियां जब कमजोर पड़ जाती है तो पुरुषों की लिंग में भरपूर उत्तेजना नहीं मिल पाती है। मांसपेशियों लिंग में बाल्व की भांति कार्य करती है जो रक्त के परिसंचरण और उत्तेजना को बनाए रखती है और वहीं जब वाल्ब के रुप में कार्य करने वाली यहीं मांसपेशियां कमजोर हो जाती है तो लिंग में उत्तेजना और तनाव की कमी महसूस होने लगती है। वहीं बढ़ती उम्र के साथ मांसपेशियों का कमजोर होना स्वाभाविक होता है। शुगर और उच्च रक्तचाप वालें रोगियों की मांसपेशियों में कमजोरी जल्दी ही नजर आने लगती है। जिस कारण वह सेक्स करने में असमर्थ हो जाते हैं। अगर पुरुष एक बेहतर दिनचर्या और जीवनशैली को अपनाएं तो इस कमजोरी से बच सकता है।


आत्मविश्वास की कमी- लिंग के तनाव में कमी आने के कारणों में आत्मविश्वास की कमी भी होती है। कई बार पुरुषों में यह भ्रांति हो गई है कि उनके सेक्स करने में उनका लिंग साथ नहीं देगा। जिससे उनके लिंग की उत्तेजना में कमी आ जाती है और उनके आत्मविश्वास में कमी के कारण ऐसा होता है। उन्हें लगता है कि कहीं ऐसा ना हो कि स्त्री के संतुष्ट नहीं होने पर वह उन्हें अपमानित कर दें। जिस चिंता के कारण वह सेक्स के बारें में सोचना बंद कर देता है और उसके लिंग के तनाव में कमी आ जाती है।


नपुंसकता के कारण- पुरुषों में नपुंसकता की समस्या तब उत्पन्न होती है, जब कोई व्यक्ति इरेक्शन (erection) प्राप्त नहीं कर पाता है। इरेक्शन लिंग को खड़ा करने और सख्त रखने की क्रिया होती है। अतः सेक्स के दौरान इरेक्शन में कमी नपुंसकता के रूप में जाना जाता है। ज्यादातर पुरुषों में इस समस्या का प्रमुख कारण शारीरिक या मनोवैज्ञानिक हो सकता है। कुछ बीमारियों के कारण जैसे- ह्रदय रोग, शुगर और उच्च रक्तचाप नपुंसकता का कारण बन सकती है। जब कोई व्यक्ति अधिक धूम्रपान और शराब का सेवन करता है तो वह नपुंसकता का कारण बन सकती है। नपुंसकता के शिकार पुरुषों में लिंग के तनाव में कमी आ जाती है।




हार्मोन की कमी की समस्या- पुरुषों में सेक्स हार्मोन टेस्टोस्टेरोन की कमी के कारण लिंग में उत्तेजना की कमी हो जाती है जिससे पुरुष सेक्स का आनंद नहीं उठा पाता है। शारीरिक तनाव,चिंता और अवसाद, असंतुलित खान-पान और कई बार अनुवांशिकी के कारण मानव शरीर में हार्मोन की कमी हो जाती है। हार्मोन टेस्टोस्टेरोन ही पुरुषों के सेक्स के लिए उत्तेजित करता है।


हस्तमैथुन के कारण- कुछ पुरुष सेक्स की उत्तेजना के चलते सेक्स इच्छा के होने के कारण इस प्रक्रिया को अपनाते है और खुद को संतुष्ट करने की कोशिश करते है जो शारीरिक दृष्टि से उचित नहीं है। पोनोग्राफी के चलते भी कुछ युवक इस क्रिया को अपनाकर लिंग में तनाव की कमी की समस्या को बढ़ावा देते है। इस प्रक्रिया को अधिक बार अपनाने पर लिंग की मांसपेशियों पर बुरा प्रभाव पड़ता है जो आगे चलकर लिंग में तनाव की कमी को पैदा करता है।


बढ़ती उम्र की समस्या- ज्यादातर पुरुषों में बढ़ती उम्र के साथ ही कई प्रकार की समस्या भी खड़ी हो जाती है जिसमें मांसपेशियों में कमजोरी और अन्य तमाम प्रकार की बीमारियां जैसे मधुमेह और उच्च रक्तचाप के कारण लिंग में तनाव की कमी महसूस होने लगती है अगर पुरुष चाहे तो वह एक बेहतर जीवनशैली अपनाकर इऩ बींमारियों से दूर रह सकते है और अपनी अंदरुनी ताकत बरकरार रख सकते है। पौष्टिक आहार व व्यायाम को अपनाकर पुरुष लंबे समय तक अपनी सेक्स लाइफ को बनाएं रख सकता है।

धू्म्रपान और अधिक शराब के सेवन के कारण भी लिंग में तनाव की कमी की समस्या होती है। इस प्रकार के समस्या होने पर आप अपने फैमिली डॉक्टर से परामर्श ले सकते है।






शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये