अलसी खाने के फायदे और नुकसान- Flax Seeds in Hindi

15 अप्रैल 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (40 बार पढ़ा जा चुका है)

Flax Seeds in Hindi- आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में किसी के पास इतना समय नहीं है कि वो अपनी सेहत का ख्याल रख सके. इस कारण उन्हें कई तरह की बीमारियां घेर सकती हैं. ऐसे में जरूरी ये है कि आप अपने आहार में किसी ऐसी चीज को जरूर शामिल करें जिससे आपको हर तरह के पोषण मिले और आप बीमारियों से भी दूर रह सकें. अलसी इन्ही में से एक है जो दिखने में भले छोटी हो लेकिन इसके बीज के फायदे कई हैं.अलसी को अंग्रेजी में Flax कहते हैं और ये एक औषधीय बीज है जिसके गुण बीमारियों पर रामबाण असर डालकर आपको राहत पहुंचाता है.


अलसी के बीज


क्या होती है अलसी ?What is Flax ?


अलसी के फायदे या नुकसान के बारे में जानने से पहले आप जान लें कि आखिर ये होता क्या है. असी को तीसी के नाम से भी कुछ लोग जानते हैं. इसका उपयोग बहुत सालों से लोग करते आ रहे हैं और यह स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद साबित होता है. अलसी को गुणों का खजाना माना जाता है लेकिन आज भी बहुत से लोग इसके फायदों से अनजान हैं. अलसी हमारे शरीर को कई बीमरियों से बचाकर आपके स्वास्थ्य को अच्छा बनाने में मदद करती है. शाकाहारी लोगों के लिए अलसी वरदान माना जाता है क्योंकि मछली में पाया जाने वाला ओमेगा-3 फैटी एसिड अलसी में मौजूद होता है. इसके साथ ही इसमें लिगनेंस एंटीऑक्सीडेंट्स, फाइबर और अल्फा लिनोलिक एसिड मौजूद होता है जो आपके शरीर में होने वाली तरह-तरह की बीमारियां जैसे डायबिटीज, दिल की बीमारी, पेट की परेशानी और दूसरी कई स्वास्थ्य समस्याओं को सही करने का काम करते हैं. अलसी एक औषधीय गुण मनुष्य के लिए अमृत है.


अलसी के बीज के फायदे -Benefits of Flax Seeds


अस्थमा - अस्थमा रोगियों के लिए ये रामबाण नुस्खा है. एक चम्मच अलसी के बीच का पाउडर को आधा गिलास पानी में भिगोकर रख दें. फिर शाम को छानकर पी लें और फिर शाम को ऐसा करके भिगोदें और फिर उसे सुबह पिएं. अस्थमा में फायदा मिलेगा, याद रहे गिलास कांच या चांदी का होना चाहिए.

वजन कम करने के लिए - अलसी के बीज में मौजूद लिगनेन कोशिकाएं वजन कम करने का काम करती हैं. लिगनेन चयापचय को बढाता है और इस वजह से वजन कम हो जाता है. अलसी के बीज के पाउडर को वजन कम करने में प्रोग करें, इसे आप सुबह शाम गर्म पानी के साथ एक चम्मच लें फायदा मिलेगा.

ब्लड प्रेशर करता है कम - इंसान में तनाव के साथ उसका ब्लड प्रेशर का लेवल कम या ज्यादा हो जाता है. हाई ब्लड प्रेशर होने से दिल का दौरा पड़ने का खतरा होता है इसके साथ ही ब्रेन हैमरेज होने का खतर भी हो जाता है. इसलिए अपने खानपान को दुरुस्त रखने के साथ-साथ अलसी के बीज का भी प्रयोग करें फायदा मिलेगा.

सर्दी-खांसी में फायदा - बदलता मौसम लोगों को बीमार करता है और ऐसे में ख्याल रखना जरूरी हो जाता है. सर्दी जुकाम होने पर अलसी का पाउडर चाय में मिलाकर पिएं या फिर दो चम्मच इस पाउडर में एक कप पानी मिलाकर तब तक उबालें जब तक ये गाढ़ा ना हो जाए. फिर इसे छान लें और इसमें तीन चम्मच शहद और नींबू मिलाकर पिएं. सर्दी जुकाम में ये रामबाण का उपाय होता है.

गर्भावस्था में फायदा - गर्भावस्था का दौर बहुत नाजुक होता है और हर महिला चाहती है कि उसे किसी तरह की उस दौरान परेशानी नहीं हो. इसके लिए आपको अलसी के बीज का प्रोग करना चाहिए क्योंकि ये आपको ओमेगा-3 औप प्रोटीन देता है और एक गर्भवती महिला को पोषक तत्वों की बहुत जरूरत होती है. गर्भावस्था के दौरान कब्ज की समस्या भी आम है तो बस आपको सुबह शाम अलसी का पाउडर गर्म पानी के साथ लेना है. मगर याद रहे अगर आपको कोई एलर्जी है तो इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर्स से राय जरूर ले लें.

पेट में सूजन- बहुत से लोगों को पेट से संबंधित बीमारी हो जाती है और कभी-कभी पेट में सूजन भी हो जाती है. ऐसा ज्यादा जंक फूड खाने की वजह से हो जाता है और इस समस्या से निपटने के लिए आपको अपने खानपान में सुधार लाने की जरूरत होती है. इसके साथ ही अलकी के बीज का पाउडर गर्म पानी के साथ पीने से पेट की सूजन धीरे-धीरे कम और फिर गायब हो जाती है.


अलसी का तेल भी है फायदेमंद - Flax Oil Benefits


अलसी का तेल कई गुणों से भरपूर होता है जो स्वास्थ को सही रखता है. अगर त्वचा जल जाए तो अलसी का तेल लगाने से दर्द और जलन में फायदा मिलता है. इसमें विटामिन ई पाया जाता है और इससे कुष्ठ रोगियों का भी इलाज होता है. कुछ लोगों का मानना है कि अलसी एक गर्म तासीर वाला द्रव्य पदार्थ है इसलिए गर्मी के मौसम में इसका सेवन नहीं करना चाहिए. मगर वहीं कुछ लोग मानते हैं कि अलसी का सेवन किसी भी मौसम में किया जा सकता है जबकि कुछ किसी भी बात को नहीं मानते.हालांकि अलसी में कई गुण होते हैं फिर भी इसका सेवन करने से पहले एक बार डॉक्टरी सलाह लेना जरूरी होता है वरना कई बार इसका उपयोग असंतुलित मात्रा में प्रयोग करने से कई तरह की परेशानियां आ जाती हैं.




अलसी के नुकसान- Side Effects of Flax seeds in Hindi


जैसा कि आप जानते ही होंगे कि किसी भी चीज के फायदे और नुकसान दोनों होते हैं. इसी तरह मैं अब तक आपको अलसी के बीज या अलसी के फायदों के बारे में बता रही थी लेकिन अब आपको इसके कुछ नुकसानों के बारे में भी जान लेना चाहिए.

1. अगर अलसी सही मात्रा में खाई गई है तो कब्ज दूर होता है लेकिन अगर अगर इसका सेवन ज्यादा कर लिया है तो ये आपमें लूज मोशन वाली स्थिति भी पैदा कर सकती है.

2. कई एक्सपर्ट्स कहते हैं कि पर्याप्त मात्रा में तरल पदार्थ लिए बिना जरूरत से ज्यादा अलसी खाने से आंते ब्लॉक हो जाती हैं. जिन्हें पहले से ही इस तरह की शिकायत है वो तो बिल्कुल भी इसका सेवन नहीं करें.

3. ज्यादा अलसी खाने से एलर्जी भी शुरु हो सकती है. ज्यादा अलसी खाने से सांस लेने में रुकावट, लो ब्लड प्रेशनर और तीव्रग्राहिता जैसे एलर्जिक रिएक्सन हो सकते हैं.

4. अगर आप प्रेग्नेंट हैं तो अलसी के बीच एस्ट्रोजन की तरह काम करते हैं और जो महिलाएं हर दिन अलसी का बीज खाती हैं उनके पीरियड साइकिल में भी बदलाव आ सकता है. इसके अलावा जो महिलाएं हार्मोनल समस्याओं से जूझ रही हैं तो उन्हें अलसी से बिल्कुल दूर रहना चाहिए.

5. अलसी के बीजों में एस्ट्रोजन गुण होता है इसलिए इससे प्रेग्नेंसी के दौरान पीरियड्स आ सकते हैं इसलिए ज्यादातर डॉक्टर्स इसे प्रेग्नेंसी के दौरान खाने की अनुमति नहीं देती हैं.



शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये