घुटनों के दर्द में रामबाण इलाज है ये सभी एक्सरसाइज- Ghutno ki Exercise

13 मई 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (30 बार पढ़ा जा चुका है)

Ghutno ki Exercise- एक समय था जब घुटने में दर्द 40 के पार लोगों को होता था लेकिन अब इसका दर्द किसी भी उम्र के लोगों को हो जाता है. घुटनों और शरीर के दूसरे जोडो़ं में दर्द एक आम समस्या होती है. आज के समय में युवाओं में घुटने के दर्द होने की समस्या सामने आने लगी है. क्या आपने कभी ये बात सोची है कि आखिर घुटनों में दर्द होता क्यों है ? अगर नहीं पता तो हम बताते हैं कि किसी चीज को बिल्कुल ना करना और किसी चीज को जरूरत से ज्यादा करना ही हमारे ज्वाइंट्स और घुटनों में दर्द का कारण बनता है. जबकि विशेषज्ञ का कहना है कि वजन को नियंत्रण रखने के लिए जिम जाने पर बहुत ज्यादा वेट लिफ्टिंग, रनिंग या साइकिलिंग से बचना चाहिए इससे घुटने खराब हो सकते हैं. मैं आपको ऐसी एक्सरसाइज के बारे में बताऊंगी जिसे करने के बाद घुटनों के दर्द में राहत मिल सकती है.


घुटने का दर्द


घुटनों में दर्द होने के कारण- Causes of knee pain


घुटना मानव शरीर का क ऐसा हिस्सा होता है जो पूरे शरीर का भार उठाता है. फेमर और टीबिया नाम की दो हड्डियों का अंतिम सिरा घुटने के पास जाकर खत्म हो जाता है लेकिन दोनों का आखिरी सिरा एक-दूसरे से नहीं मिलता. घुटने की हड्डी के जोड़वाले सिरे पर कार्टिलेज की परत चढ़ी होती है. कार्टिलेज चिकने व रबर जैसी मुलायम संयोजी ऊतकों का समूह होता है जो जोड़ों को ठीक ढंग से मोड़ने में मदद करता है.इसके अलावा घुटनों में दर्द के कुछ और भी कारण होते हैं.

1. अगर आप मोटापे के शिकार हो जाते हैं तो आपके शरीर का वजन घुटनों को परेशान करने लगता है क्योंकि शरीर का ज्यादा वजन घुटनों पर भार देता है और इससे घुटनों में दर्द की समस्या होने लगती है.

2. जिन व्यक्तियों के पैर सीधे ना होकर मुडे़ हुए होते हैं तो ऐसी स्थिति में शरीर का भार घुटने की तरफ मुड़ने की एक तरफ आ जाता है. इसकी वजह से भी घुटनों में दर्द होने लगचा है, कभी-कभी ऐसी स्थिति में गठिया होने का खतरा भी हो जाता है.

3. जो लोग दिनभर घुटने टेककर या पालथी मारकर काम करते हैं, उन्हें भी घुटनों में दर्द की शिकायत हो जाती है. कारमेंटर और प्लमर्स इस श्रेणी में आते हैं इसलिए उन्हें घुटनों में दर्द की आशंका बनी रहती है. उन लोगों को फिजियोथैरेपी और एक्सरसाइज से इससे राहत मिल सकती है.

4. टीबी और बैक्टीरियल इंफेक्शन आपके घुटने को डैमेज करता है. जिसकी वजह से असहनीय दर्द, सूजन और अकड़न हो सकती है. इंफेक्शन से घुटनों में होने वाले दर्द के कारण पीड़ित को चलने-फिरने में काफी समस्या होने होने लगती है.

5. रूमेटॉइड आर्थराइटिस, सोरिएटिक आर्थराइटिस एंकीलूजिंग स्पॉन्डिलाइटिस और गठिया के कारण भी घुटनों में सूजन आने लगती है. दवाओं की मदद से इन बीमारियों को ठीक किया जा सकता है लेकिन अगर घुटने ज्यादा डैमेज हो रहे हैं तो सर्जरी ही एक उपाय होता है.

6. घुटनों में असहनीय दर्द के लिए कभी-कभी कैंसर ट्यूमर भी जिम्मेदार होते हैं. ट्यूमर से होने वाले घुटनों के दर्द से निजात पाने के लिए एक्स-रे, एमआरआई स्कैन, बायोप्सी और सर्जरी कराने की जरूरत पड़ती है.


घुटनों के दर्द से छुटकारा पाने के देसी इलाज- Treatment of pain in knees


घुटनों का दर्द जब हल्का होता है तो लोग उसे हल्के में लेते हैं लेकिन अगर इसका इलाज समय पर नहीं हो तो ये बड़ी समस्या बन सकती है. पैर हर किसी के लिए बहुत जरूरी होता है और इसका ख्याल हमें हमेशा रखना चाहिए. घुटनों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए इन उपायों का प्रयोग जरूर करें.

1. कपड़े को गर्म पानी में भिगोकर पैड बना लें और फिर उससे सिकाई करने से दर्द में आराम मिलता है.

2. भोजन में दालचीनी, जीरा, अदरक और हल्दी का उपयोग ज्यादा करना चाहिए. गर्म तासीर वाले इन पदार्थों के सेवन से घुटनों की सूजन और दर्द आराम मिलता है.

3. मेथी दाना, सौंठ और हल्दी बराबर मात्रा में मिला कर तवे भून लें और उसे पीस लें. हर दिन एक चम्मच इसका चूर्ण सुबह-शाम लेने से दर्द में आराम मिलता है.

4. रोज सुबह खाली पेट एक चम्मच मेथी के पिसे हुए दानों में एक ग्राम कलौंजी मिलाकर गुनगुने पानी के साथ लें. दोपहर और रात में खाना खाने के बाद आधा-आधा चम्मच लेने से जोड़ मजबूत होने लगते हैं और फिर पैर में किसी भी प्रकार का दर्द नहीं होता है.

5. हल्दी चूर्ण, गुड़, मेथी दाना पाउडर और पानी सामान मात्रा में मिला लीजिए. फिर थोड़ा गर्म करके इनका लेप रात को घुटनों पर लगाएं और पट्टी बांधकर लेट जाएं, आराम मिलता है.

6. अलसी के दानों के साथ दो अखरोट के सेवन करने से जोड़ों के दर्द में आराम मिलता है.

7. 50 ग्राम लहसुन, 25 ग्राम अजवायन और10 ग्राम लौंग 200 ग्राम सरसों के तेल में पका कर जला दें और फिर ठंडा होने पर कांच की बोतल में छान कर रख लें. इसकी मालिश दिन में दो बार करनी चाहिए.

8. गेहूं के दाने के आकार का चूना दही या दूध में घोलकर दिन में एक बार खाएं. इसे 90 दिन तक लेने से कैल्शियम की कमी दूर होगी.


घुटने का दर्द


घुटनों के दर्द में करें ये आसान व्यायाम - Ghutno ki Exercise


घुटनों का दर्द एक आम समस्या बन गई है जो किसी भी उम्र के लोगों को हो सकती है. युवाओं में भी इसकी संख्या बढ़ती जा रही है और ये एक गंभीर समस्या है क्योंकि एक समय था जब ये दर्द बुजुर्गों को होता था फिर 40-50 के बीच के लोगों को होने लगा और अब तो इससे सभी परेशान हैं. हर किसी को इन 6 आसान से एक्सरसाइज को जरूर करना चाहिए.

15 मिनट साइकिल चलाना- घुटनों के दर्द के लिए साइकिल चलाना बेस्ट एक्सरसाइज मानी जाती है. अगर घुटने के दर्द को कम करना है तो दिन में कम से कम 10 से 15 मिनट तक साइकिल चलाइए. इससे घुटने मजबूत होने के साथ ही अस्थिरज्जू और मसल्स भी मजबूत हो जाते हैं. घुटनों में अगर चोट लगी है तो भी साइकलिंग जरूर करनी चाहिए आपको इससे काफी आराम मिल सकता है.

कार्डियो एक्सरसाइज-स्टेपिंग या स्टेप अप्स एक कार्डियो एक्सरसाइज होती है जिसके कई फायदे हैं. यह एक्सरसाइज दिल की धड़कन को बढ़ाता है, शरीर में गर्मी पैदा करता है और पूरे शरीर को एनर्जी से भर देता है. स्टेपअप करते समय अपने घुटने को ना मोड़ें, उसे पूरी तरह सीधा कर लें. एक समान गति से एक मिनट तक लगातार स्टेप करें तो घुटनों को काफी आराम मिल सकता है.

योगासन- अगर आपका घुटना किसी वजह से चोटिल हो गया है तो आप योगा भी कर सकते हैं. योग करने से मसल्स रिलैक्स होते हैं और घुटने पर दबाव भी कम पड़ता है. ऐसे कई योगासन होते हैं जो खासतौर पर घुटने को आराम पहुंचाने लिए बनाए गए हैं. अगर आप हर दिन सूर्य नमस्कार करते हैं तो घुटने का दर्द काफी कम हो सकता है.

स्ट्रेचिंग- दर्द से आराम पाने के लिए मसल्स स्ट्रेचिंग एक बेहतरीन एक्ससाइज होती है. ऐसे कई स्ट्रेचिंग एक्सरसाइज हैं जो घुटने के लिए काफी अच्छे होते हैं. ऐसा ही एक एक्सरसाइज है हेम्स्ट्रिंग स्ट्रेचिंग जिससे घुटनों के मसल ढीवे हो जाते हैं. इस एक्सरसाइज के लिए आप एक पैर आगे करें और दूसरे घुटने को इतना मोड़ें कि आप दबाव महसूस करने लगें.

आंशिक स्कावट्स- एक कुर्सी के सामने 12 इंच दूरी पर खड़े हो जाएं और फिर पैरों और कुल्हों को चौड़ा करके अपने पैर की उंगलियों को आगे की ओर करें. अब अपने कूल्हों को मोड़कर अपने आधे हिस्से को धीरे-धीरे कुर्सी के पास मोड़ें. इस एक्सरसाइज को करते समय अपने एब्स को तंग कर लें और जां लें कि आपके घुटने पैर की उंगलियों के पीछे होनी चाहिए.

मैट एक्सरसाइज- इस एक्सरसाइज में जैसे लेग लिफ्ट, नी लिफ्ट में मसल्स स्ट्रेच होते हैं जिससे घुटने के दर्द को कम करने में बहुत मदद मिलती है. मैट एक्सरसाइज को आप घर पर कभी भी कर सकते हैं. जिसमें अपने पैर को ऊपर उठाते हुए घुटनों को ना मोड़ें और कुछ देर पैर को उठा रहने दें. घुटने की चोट के लिए ये एक्सरसाइज बहुत अच्छी होती है.



शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये