मानव शरीर में विटामिन्स के फायदे - Vitamin A Benefits in Hindi

15 मई 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (16 बार पढ़ा जा चुका है)

Vitamin A Benefits in Hindi- मानव शरीर में बहुत सी चीजें जरूरी होती है जिसकी वजह से अच्छा स्वास्थ्य बनता है. स्वास्थ्य अच्छा रहता है तो रोग प्रतिरोधक क्षमता सही रहती है और व्यक्ति कम बीमार पड़ता है. जिस तरह से शरीर में आयरन, कैल्शियम और जिंक जरूरी होता है उसी तरह से विटामिन का भी अपना काम होता है. विटामिन्स कई तरह के होते हैं और इन सभी का काम हमारा स्वास्थ्य ठीक रखना होता है जिसके सही से काम करने पर हमारी बॉडी पार्ट्स भी अच्छे से काम करते हैं. अब आपको लगेगा कि विटामिन की मात्रा सही रखने के लिए आपको क्या करना चाहिए, तो आपको बता दूं कि विटामिन की मात्रा बॉडी में रखने के लिए या तो आपको टैबलेट लेनी चाहिए या फिर नेचुरल तरीकों से विटामिन की मात्रा समान्य रखिए.


विटामिन ए

विटामिन ए, बी, सी, डी, ई जैसे कई मिनरल्स होते हैं लेकिन मैं यहां पर विटामिन ए के बारे में बात करूंगी जो वसा में घुलनशील होता है. यह मुख्य रूप से रेटिनॉयड और कैरोटिनॉयड दो रूपों में पाया जाता है. सब्जियों का रंग जितना गहरा और चमकीला होता है उसमें कैरोटिनॉयड की मात्रा उतनी ज्यादा होगी. विटामिन शरीर के सभी अंगो को सुचारू रूप से चलाने में मदद करता है, हालांकि यह हमारे भोजन में अलग-अलग रूपों में पाया जाता है लेकिन अगर इसकी कमी हो भी गई तो आपको प्राकृतिक स्रोतों से ही इसकी कमी को दूर करना चाहिए.


क्या होता है विटामिन ए ? What is Vitamin A ?


विटामिन ए शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट है जो फ्री रेडिकल्स के हानिकारक प्रभावों से बचने में मदद करता है. शरीर के सही विकास के लिए विटामिन ए बहुत अहम भूमिका को निभाता है. विटामिन ए वसा में घुलनशील होता है और ये शरीर में कई चीजों को स्वस्थ रखने में मदद करता है. विटामिन एक के अच्छे स्रोत हैं गाजर, चुकंदर, शलजम, शकरकंद, मटर, टमाटर, ब्रोकली, कद्दू, साबुत अनाज, हरी पत्तेदार सब्जियां, धनिया, गिरीदार फल, पीले या नारंगी रंग के फल, आम, तरबूज, पपीता, चीकू, राजमा, सरसों, बींस जैसी चीजों में उचिक मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है. भोजन में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट युक्त विटामिन ए लेने से उम्र ज्यादा नहीं दिखाई देती.


क्या होते हैं विटामिन ए की कमी के लक्षण ? Symptoms of Vitamin A deficiency


जिस तरह कैल्शियम की कमी से हड्डियों में दर्द, आयरन की कमी से कमजोरी का एहसास होता है बिल्कुल उसी तरह से विटामिन ए की कमी होने पर भी कई तरह की समस्याएं शुरु हो जाती हैं. इसकी कमी होने पर आपको कुछ ऐसे लक्षण दिखने लगेंगे.

1. अंधापन

2. आँखों में सूखापन

3. रूखे बाल

4.सूखी त्‍वचा

5. बार-बार सर्दी-जुखाम

6. थकान और कमजोरी

7. नींद न आना

8. निमोनिया

9. प्रजनन में कठिनाई

10. साइनस


क्या होते हैं विटामिन ए के फायदे ? Benefits of Vitamin A


स्वस्थ शरीर के लिए विटामिन बहुत जरूरी होता है और इसका उपयोग हमारी आंखों की रौशनी से लेकर मांसपेशियों को भी मजबूत बनाता है. विटामिन एक हृदय रोगों, अस्थमा, डायबिटीज और कई दूसरी बीमारियों से लड़ने में फायदेमंद साबित हो सकता है. विटामिन ए के कुछ और भी लाभ होते हैं जिनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए.

आंखों के लिए- विटामिन ए रोटोप्सिन का एक जरूरी भाग होता है. जब हमारी आंखों की रेटिना पर रोशनी पड़ती है तो यह सक्रिय हो जाता है और दिमाग को सिग्नल भेजता है. इसी वजह से हम चीजों को देख पाते हैं. बीटा कैरोनॉयड भी विटामिन ए का रूप है जो पौधों में पाया जाता है औ यह आंखों के धुंधलेपन को दूर करता है, जिससे उम्र के साथ आंखों से कम दिखाई देने की समस्या उत्पन्न नहीं होती है.

इम्यून सिस्टम- हमारे शरीर का कार्य प्रचुर मात्रा में विटामिन ए पर निर्भर करता है, इसलिए ये इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. यह जीन नियंत्रित करता है जो कैंसर और ऑटो इम्यून जैसी गंभीर बीमारियों से लडऩे के अलावा संक्रमण से भी शरीर की सुरक्षा करता है. बीटा कैरोटीन खासकर बच्चों में प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ाती है. एक स्टडी के मुताबिक विटामिन एक की उच्च मात्रा बाल मृत्युदर को 24 प्रतिशत कम कर देती है. विटामिन ए की कमी से बच्चों को डायरिया और खसरा जैसी बीमारियां हो जाती हैं.

स्वैलिंग (सूजन) कम करने में- विटामिन एक में एंटीऑक्सी़डेंट के गुण पाए जाते हैं जो कि शरीर में मुक्त कणों को बेअसर करते हैं जिससे ऊतक और कोशिकाएं भी डैमेज हो जाती हैं. विटामिन एक कोसिकाओं को ज्यादा सक्रिय होने से रोक देता है और जब इम्यून सिस्टम खाद्य प्रोटीन के प्रति ज्यादा सक्रीय होता है तो शरीर में फूड एलर्जी और सूजन बढ़ने लगती है. विटामिन एक इस तरह से फूड एलर्जी को बेअसर करता है और शरीर को खतरनाक बीमारियों से बचाता है.

त्वचा को स्वस्थ रखने में- विटामिन एक के फायदे किसी घाव को भरने और त्वचा के लिए बहुत उपयोगी साबित होता है. यह त्वचा की कोशिकाओं को बनने में आंतरिक और वाह्य रूप से सहायता करता है स्किन कैंसर में मदद करता है. ग्लाइकोप्रोटीन के निर्माण में विटामिन ए की जरूरत होती है.

कैंसर के लड़ने में- सभी जानते हैं कि कैंसर एक गंभीर बीमारी है लेकिन विटामिन एक शरीर कोशिकाओं के निर्माण को रोकता है और कई रूपों में कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से लडऩे में मदद करता है. रेटिनोइक एसिड कैंसर के इलाज में काफी सहायक होती है. फेफड़े, स्तन, गर्भाशय, ब्लैडर, मुख और त्वचा कैंसर को रेटिनोइक एसिड द्वारा दबाया जा सकता है. एक स्टडी में पाया गया है कि मेलानोमा, हेपेटामा, फेफड़ों के कैंसर, स्तन कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर से रेटिनोइक एसि़ड सहायता करते हैं.

साइड इफैक्ट्स में- मानव शरीर को कई तरह के साइड इफैक्ट्स हो जाते है. इसमें पीलिया, मितली, उल्टी, भूख की कमी, चिड़चिडापन और बाल झडऩे जैसे साइड इफैक्टस जैसी समस्याओं को विटामिन एक का सेवन खत्म कर सकता है. विटामिन ए की मात्रा से भरपूर वाले पदार्थ को हर किसी को लेने चाहिए जिससे आपको सही तरह से पोषक तत्व मिल सके.

हड्डियों के लिए- अब तक आप जानते होंगे कि हड्डियो को मजबूत करने के लिए कैल्शियम लेना सही रहता है लेकिन अब आप जान लीजिए कि कैल्शियम के साथ ही विटामिन ए का होना भी आपकी हड्डियों को फायदा कर सकता है.विटामिन ए की मात्रा भी अगर आपको ज्यादा लगने लगे तो उसका असर भी आपकी हड्डियों पर पड़ सकता है, इसलिए इसे ज्यादा मात्रा में नहीं लें.



शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये