किसमें होता है ज्यादा प्रोटीन ? - Protein Kisme Jyada Hota Hai

20 मई 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (101 बार पढ़ा जा चुका है)

Protein Kisme Jyada Hota Hai- मानव शरीर मे बहुत सी चीजें ऐसी होती हैं जो इतनी जरूरी होती हैं कि अगर वो नहीं हो तो कई तरह की बीमारी उन्हें घेर सकती है. इसलिए मान शरीर में जितनी मात्रा रक्त की होनी चाहिए उतनी ही कुछ ऐसे मिनरल्स की भी होनी चाहिए जिससे बॉडी पार्ट्स भी सही से काम करें. आयरन, कैल्शियम, जिंक और प्रोटीन ऐसे मिनरल्स हैं जिनके शरीर में होने से बॉडी पार्ट्स सही से काम करते हैं. शरीर के निर्माण करने वाले जरूरी तत्वों में एक प्रोटीन भी होता है.


प्रोटीन

प्रोटीन के फायदे- Protein ke Fayde in Hindi


एक स्वस्थ मानव शरीर में लगभग 62% पानी, 16% वसा, 16% प्रोटीन, 6% खनिज, 1 प्रतिशत से कम कार्बोहाइड्रेट, थोड़ी मात्रा में विटामिन और कुछ अन्य पदार्थ शामिल होते हैं. मानव शरीर का 16% भाग प्रोटीन वाला होता है और ये हमारे शरीर के बालों, मांसपेशियों, त्वचा, हड्डियों, नाखूनों और रक्त कोशिकाओं में पाया जाता है. प्रोटीन शरीर की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है और इसके साथ ही शरीर के संतुलन को बनाए रखने के लिए जरूरी होता है. प्रोटीन की पर्याप्त मात्रा हमारे बेहतर स्वास्थ्य के लिए जरूरी होता है और ऐसे में अक्सर लोग मान लेते हैं कि प्रोटीन के लिए अंडा फायदेमंद होता है लेकिन इसके अलावा भी कई चीजें शरीर में प्रोटीन की मात्रा को स्थिर रखती हैं.


प्रोटीन की कमी से होने वाला रोग- Protein deficiency disease


प्रोटीन मानव शरीर में बहुत जरूरी होता है लेकिन अगर आपने आहार के माध्याम से पर्याप्त प्रोटीन प्राप्त नहीं किया तो आपको स्वास्थ्य से संबंधित की बीमारियां हो सकती हैं. प्रोटीन लेना जरूरी होता है लेकिन इसका ज्यादा सेवन भी आपको कई बार परेशान कर सकता है. एक दिन में कितना प्रोटीन खाना चागिए यह आपके वजन पर निर्भर करता है. वयस्कों को 0.8 प्रोटीन अपने प्रतिकिलो वजन के हिसाब से खाना चाहिए, इसका मतलब कि आमतौर पर एक निष्क्रिय दिनचर्या वाले या कम एक्टिव लाइफ स्टाइल वाले पुरुषों को रोजाना 56 ग्राम प्रोटीन खाना चाहिए और इस तरह की महिलाओं को हर दिन 46 ग्राम प्रोटीन खाना चाहिए. प्रोटीन की कमी से शरीर में कुछ ऐसी परेशानिया हो सकती हैं.

1. फैटी लिवर या लिवर की कोशिकाओं में फैट जम जाता है.

2. पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन ना लेने से हड्डियां कमजोर हो सकती हैं, जिससे फ्रैक्चर का भी खतरा हो सकता है.

3. बच्चों की लंबाई भी प्रोटीन की कमी से रुक सकती है. मांसपेशियों के साथ ही हड्डियों और शरीर के विकास के लिए बहुत जरूरी होता है.

4. प्रोटीन की कमी से व्यक्ति की रोग प्रतिरोधर क्षमता भी कमजोर हो जाकी है. जिसकी कमी से संक्रमण का खतरा भी बढ़ता है और प्रोटीन की कमी से रोगप्रतिरोधक क्षमता का कम होना सामान्य बात होती है.

5. घाव ठीक होने में समय लगता है और इसे ठीक होने या नई कोशिकाओं के बनने, ऊतकों के विकास, त्वचा और रोगप्रतिरोधर क्षमता के लिए पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन की आवश्यकता होती है.

6. अगर आपको नींद नहीं आने की समस्या है तो यकीनन आपके शरीर में प्रोटीन की मात्रा की कमी हो सकती है और इसकी वजह से आपको सांस लेने या हृदय से संबंधित परेशानी हो सकती है.


प्रोटीन कम होने के लक्षण- Symptoms of Protein deficiency


1.पेट बढ़ना

2. थकान और चिड़चिड़ापन

3. सूजन और त्वचा का फूलना

4. टूटा नाखून या खराब नाखून

5. त्वचा में सूजन या लाल चकत्ते पड़ना

6. बच्चों की लंबाई बढने में परेशानी

7. बार-बार किसी संक्रमण की चपेट में आना

8. मांसपेशियों का कमजोर हो जाना

9. बालों का रूखा होना, कमजोर होना या आसानी से टूट जाना

10. हड्डियों में अक्सर दर्द रहना


इन चीजों में होता है प्रोटीन -Protein Wali Chije




प्रोटीन की कमी को पूरा करने के लिए हमें कुछ आहारों के सेवन की जरूरत होती है. इन्हें प्रतिदिन खाने से शरीर में प्रोटीन की कमी पूरी होती है और शरीर में बेवजह की परेशानियां नहीं आ सकेंगी. शरीर में प्रोटीन बिल्कुल वैसे ही जरूरी होता है जैसे आयरन, कैल्शियम या फिर कुछ जरूरी दूसरे मिनरल्स होते हैं. अगर आपको भी प्रोटीन की कमी को पूरा करना है तो इन चीजों का इस्तेमाल जरूर करें.

सोयाबीन– सोयाबीन, मीट और अंडे से भी ज्यादा प्रोटीनयुक्त आहार है, प्रोटीन के अलावा सोयाबीन विटामिन ‘बी’ कॉप्लेक्स विटामिन ‘ई’ और खनिज पदार्थ भी पाए जाते हैं. इसके अलावा सोयाबीन फाइबर से भी भरपूर होता है और 100 ग्राम सोया चंक्स में करीब 50 ग्राम प्रोटीन होता है.

पनीर– दूध से बना कोई भी प्रोडक्ट स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद ही होता है और पनीर तो हमारे लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है. पनीर भी दूध से ही तैयार होता है और इसमें प्रोटीन, कार्ब और फैट पाया जाता है और 100 ग्राम पनीर में 18 ग्राम के आस पास प्रोटीन होता है.

मूंग की दाल– मूंग की दाल प्रोटीन की कमी पूरी करने का एक आसान और सस्ता साधन माना जाता है. ऐसा इसलिए क्योंकि मूंग की दाल प्रोटीन से भरपूर मात्रा में होता है. 100 ग्राम मूंग की दाल में करीब 24 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है.

बादाम– बादाम बेहतरीन किस्म के फैट के साथ साथ भरपूर प्रोटीन वाला खाद्य पदार्थ होता है. 100 ग्राम बादाम में लगभग 21 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है.

काजू– वैसे तो काजू खाने के कई फायदे होते हैं लेकिन इसे खासकर प्रोटीन के लिए खाया जाता है क्योंकि इसमें प्रोटीन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है. 100 ग्राम काजू में करीब 553 कैलोरी, 44 ग्राम फैट और करीब 18 ग्राम प्रोटीन होता है.

दूध– दूध में कैल्शियम भरपूर होता है जिससे हड्डियां मजबूत होती हैं लेकिन इसमें प्रोटीन भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है और एक लीटर दूध में करीब 40 ग्राम प्रोटीन होता है इसलिए कम से कम 1 गिलास दूध का सेवन तो हर दिन करना ही चाहिए.

अंकुरित अनाज– अंकुरित अनाज भी प्रोटीन के सेवन का बेहतरीन ऑप्शन होता है. एक कप अंकुरित अनाज में करीब 15 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है.

मूंगफली– वैसे तो मूंगफली में काफी फैट पाया जाता है लेकिन ये प्रोटीन से भरपूर होता है. 100 ग्राम मूंगफली में करीब 26 ग्राम प्रोटीन होता है.

चना– चना में ना सिर्फ प्रोटीन बल्कि फाइबर भी भरपूर में पाया जाता है. इसे रात में भिगो दें और फिर सुबह उबालकर या फ्राई करके खा सकते हैं. आपको बता दें कि 100 ग्राम चने में करीब 15 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है.

दही– दूध से बनी हर चीज़ में भरपूर प्रोटीन होता है और इसलिए आपको दही भी लेना चाहिए क्योंकि प्रोटीन पाने के लिए दही एक बेहतर जरिया माना जाता है. 100 ग्राम दही में करीब 11 ग्राम प्रोटीन पाया जाता है जो हर दिन के हिसाब से अच्छा होता है.

दलिया- दलिया को प्रोटीन का बेहतरीन स्रोत माना जाता है और इसमें कई प्रकार के तत्व पाए जाते हैं. दलिया में फाइबर, मैग्नीशियम, विटामिन्स और आयरन पाया जाता है. दलिया को आप सुबह के नाश्ते में ले सकते हैं.

अंडा- व्यक्ति के अपने दैनिक आहार में कम से कम एक अंडा तो जरूर खाना चाहिए क्योंकि अंडे में प्रोटीन भरपूर मात्रा में पाया जाता है और इसे प्रोटीन के बेस्ट स्रोत में से एक माना जाता है.

नॉनवेज आइटम्स- मांसाहारी चीजों में भरपूर प्रोटीन पाया है. इसमें आप चिकन, फिश या मटन कुछ भी शामिल कर सकते हैं. नॉनवेज के सभी आइटम्स में से प्रोटीन के अलावा कैलोरी भी पाई जाती है.

फल- जितने भी खट्टे फल होते हैं उनमें प्रोटीन पाया जाता है जिसमें संतरा, शहतूत, नींबू, अमरूद, आम जैसे की फल शामिल होते हैं.



शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये