विटामिन सी के फायदे -Vitamin C Benefits in Hindi

22 मई 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (26 बार पढ़ा जा चुका है)

Vitamin C Benefits in Hindi- मानव शरीर में हर अंग का अपना अलग ही काम होता है लेकिन जब तक हमें मिनरल्स नहीं मिलते हैं को कोई भी अंग प्रॉपर काम नहीं कर पाता है. इन मिनरल्स में आयरन, कैल्शियम, प्रोटीन और विटामिन्स का होना बहुत जरूरी होता है. विटामिन ए और विटामिन बी के बारे में तो मैं आपको पहले ही बता चुकी हूं और अब मैं आपको विटामिन सी के बारे में बताऊंगी, जिसका किरदार भी हमारे शरीर के लिए अहम होता है और इसे भी हमें जरूर लेना चाहिए.


विटामिन सी


क्या है विटामिन सी ? What is Vitamin C ?


विटामिन सी पानी में घुलने वाला विटामिन होता है जो प्राकृतिक रूप से कुछ खाद्य पदार्थों में ही पाया जाता है. जिसमें नींबू, संतरा या कुछ ऐसे पदार्थ आते हैं जिसमें लिक्विड की मात्रा ज्यादा होती है. विटामिन सी को आहार पूरक (सप्लीमेंट) के रूप में भी लिया जा सकता है. विटामिन सी को एल-एस्कॉर्बिक अम्ल भी कहा जाता है और शरीर में विटामिन सी अपने आप नहीं बनता है. इसके लिए आपको आहार लेना ही पड़ेगा और इसके जरिए ही शरीर में विटामिन की कमी पूरी हो सकती है. इसके कई फायदे होते हैं और ये शरीर के सामान्य कार्यों में मदद करता है. विटामिन सी कोलाजन फाइबर के लिए जैव संश्लेषण का काम करता है. कोलाजन और संयोजक ऊतकों में प्रमुख संरचनात्मक प्रोटीन है. ये हमारे शरीर में प्रोटीन की कुल जरूरत 25 से 35 प्रतिशत ही होती है. ये हड्डियों, कार्टिलेज, टेंडन, त्वचा, लिगामेंट और संयोजी ऊतकों की परत का प्रमुख घटक माना जाता है.


विटामिन सी के स्रोत- Vitamin C Foods List in hindi


विटामिन सी कई खाद्य पदार्थों में पाया जाता है लेकिन उनमें ज्यादा होता है जिसमें पानी की मात्रा ज्यादा होती है. इनमें आंवला, संतरा, अंगूर, टमाटर, नारंगी, नींबू, केला, बेर, अमरूद, सेब, कटहल, शलगम, पुदीना, मूली के पत्ते, मुनक्का, दूध, चुकंदर, चौलाई, बंदगोभी, हरा धनिया और पालक जैसी चीजों में पाया जाता है. इनका सेवन आपको दिन में एक बार तो जरूर करना चाहिए. अगर हर दिन आप विटामिन सी का सेवन करेंगे तो आप खुद को कई तरह की बीमारियों से बचा सकते हैं. यहां बताए गए सभी खाद्य पदार्थ हमारे शरीर में विटामिन सी की पूर्ति करते हैं और इनके अलावा दालों में भी विटामिन सी पाया जाता है. सूखी दालों में विटामिन सी नहीं पाया जाता लेकिन दालों को भीगा देने के बाद इसमें अच्छी मात्रा में विटामिन सी घुल जाता है. डॉक्टर्स के मुताबिक विटामिन सी को नियमित रूप से खाना चाहिए लेकिन हर उम्र के लोगों को अपने-अपने हिसाब से विटामिन सी का सेवन करना चाहिए.


जन्म से 6 महीने की उम्र के शिशु को 40 मिलीग्राम, 9 से 13 साल के बच्चे को 45 मिलीग्राम, 14 से 18 साल के पुरुष को 75 मिली ग्राम, 14 से 18 साल की महिला को 65 मिलीग्राम, 19 से 50 साल के पुरुष को 90 मिलीग्राम, 19 से 50 साल की महिला को 75 मिलीग्राम, गर्भवती महिला को 85 मिलीग्राम और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को 120 मिलीग्राम के विटामिन सी का सेवन करना चाहिए.


क्या होता है विटामिन सी की मात्रा कम लेने पर ?


विटामिन सी में रोग प्रतिरोधक क्षमता होता है जिसके कारण शरीर में कई बीमारियां हो जाती हैं लेकिन विटामिन सी की कमी से शरीर को कई नुकसान हो जाते हैं. इनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए और अगर आपको भी ऐसी चीजें हो रहीं तो विटामिन सी की मात्रा लेना शुरु कर दीजिए.

1. आंखों में मोतियाबिंद

2.आंख, नाक या कान में कोई परेशानी

3. हड्डियां कमजोर हो जाना

4.खून का ज्यादा बहना

5. मुंह से बदबू आना

6. जोड़ों में दर्द रहना

7. सर्दी-जुकाम जल्दी-जल्दी होना

8. सांस लेने में परेशानी

9.फेफड़ों में कमजोरी

10. चर्म रोग या एलर्जी

11. पाचन क्रिया का गड़बड़ होना

12.भूख नहीं लगना

13. गर्भपात हो जाना

14.मसूड़ों में खून आना

15. बार-बार चक्कर आना


विटामिन सी


विटामिन सी के फायदे -Vitamin C Benefits


विटामिन सी का उपयोग हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी और लाभकारी होता है. विटामिन सी के हर दिन सेवन से हमारे शरीर को रोगों से लड़ने में मदद करता है. विटामिन सी झुर्रियों को ठीक करने में लाभदायक होता है, ये हमारे शरीर के सबसे छोटे सेल्स को एक करने में भी मदद करता है. विटामिन सी के रक्त वाहिकाओं को मजबूत बनाने में मदद करता है और इसके साथ ही हड्डियों को जोड़ने वाला कोलाजेन नाम का पदार्थ, रक्त वाहिकाएं, लाइगामेंट्स, कार्टिलेज को भी निर्माण के लिए विटामिन सी मदद करता है. विटामिन सी के नियमित उपयोग से कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कंट्रोल में रखा जा सकता है. इसके अलावा आपको बताते हैं इसके फायदे-

त्वचा में निखार- हमारी त्वचा की कोशिकाओं में एक बहुत जरूरी पदार्थ मौजूद होता है, जिसे कोलाजेन कहते हैं और ये हमारी त्वचा कोशिकाओं को पोषकता प्रदान करता है, जिससे त्वचा स्वस्थ और निखरी हुई रहती है. विटामिन सी की कमी होने से कोलाजेन की भी शरीर में कमी होती है और इसलिए सुन्दर त्वचा के लिए यह जरूरी है, कि हम लगातार विटामिन सी युक्त भोजन करना चाहिए.

प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत करना- हमारा शरीर हर समय बाहरी कीटाणुओं के संपर्क में आ ही जाता है और ऐसे में इनसे फैलने वाले रोगों का खतरा होना भी आम बात है. शरीर में मजबूत प्रतिरक्षा प्रणाली अथवा इम्यून सिस्टम के होने से शरीर के अलग-अलग अंगों को रोगों से बचाता है. भरपूर मात्रा में विटामिन सी का सेवन करने से हमारा इम्यून सिस्टम मजबूत रहता है, और खांसी-जुकाम जैसी बिमारियों से हमारा बचाव होता है.

खून के बहाव को रोकना- विटामिन सी की कमी से शरीर में संयोजी ऊतक की कमी हो जाती है और इस हालत में शरीर में मौजूद खून के बहाव को रोकना मुश्किल हो जाता है. अगर हमें किसी तरह की चोट लग जाती है, तो बड़ी मात्रा में खून बहने का खतरा रहने लगता है. पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी की मौजूदगी में खून के बहाव को रोका जा सकता है और किसी भी तरह के घाव को जल्द ठीक किया जा सकता है.

दिल के दौरा- एक रिसर्च में सामने आया है कि जिन लोगों के शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी नहीं होता है तो उन्हें दिल का दौरा पड़ने का चांस होता है और ये खतरा 42 फीसदी तक बढ़ जाता है. इसकी वजह भी शरीर में संयोजी ऊतक की कमी का होना है. इससे बचाव के लिए विटामिन सी जरूरी है और अगर आप पर्याप्त मात्रा में फल और सब्जियों का सेवन कर रहे हैं तो आपको बीमारियां बहुत कम ही होंगी.

सम्पूर्ण विकास- शरीर के सम्पूर्ण विकास के लिए विटामिन सी बहुत जरूरी माना जाता है. इससे हमारा शरीर मजबूत बना रहता है और इसके साथ ही हमारी बॉडी के हर पार्ट्स भी ठीक रहते हैं. अंगों को मजबूत रखने के लिए उनमे मौजूद ऊतकों को भी मजबूत रहना होता है. विटामिन सी की मौजूदगी में अंगों में मौजूद संयोजी ऊतक पर्याप्त मात्रा में रहता है जो आपके अंगों के सम्पूर्ण विकास में मदद करता है.


इससे संबंधित लेख यहां पढ़िए-

Vitamin 'B' Benefits in Hindi (विटामिन 'बी' के फायदे)

Vitamin A Benefits in Hindi (मानव शरीर में विटामिन्स के फायदे)

Iron Kaise Badhaye (शरीर में आयरन की कमी को पूरा करने के टिप्स)

Protein Kisme Jyada Hota Hai (किसमें होता है ज्यादा प्रोटीन)




शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये