15+ ग्रीन टी पीने के लाजवाब फायदे- Lipton Green Tea ke Fayde

23 मई 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (199 बार पढ़ा जा चुका है)

Lipton Green Tea ke Fayde- आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में लोगों के पास खाने-पीने का भी समय नहीं है. खाने के नाम पर फास्ट-फूड जैसी चीजों पर आज के युवा निर्भर करने लगे हैं, मगर ऐसा खाना व्यक्ति की सेहत को खराब करता है. इसमें पेट निकलना, शरीर में चर्बी का आ जाना और वजन का बढ़ना जैसी समस्याएं आ जाती है. अब इन समस्याओं को खत्म करने के लिए लोग जिम जाते हैं, डाइट बदलते हैं और वॉक करते हैं. अगर इन सभी क्रियाओं में आप ग्रीन टी को शामिल कर लेते हैं तो बस आपका वजन कम होने से कोई नहीं रोक सकता.


Lipton Green Tea ke Fayde


क्या है ग्रीन टी ? What is Green Tea ?


ग्रीन टी का सेवन लोग वजन कम करने के लिए करते हैं. ग्रीन टी को कैमेलिया साइनेन्सिस नाम के पौधे से बनाया जाता है. इस पौधे की पत्तियों का उपयोग ना सिर्फ ग्रीन टी बल्कि दूसरे प्रकार की चाय बनाने में किया जाता है. ग्रीन-टी पौष्टिक तत्वों का ख़ज़ाना माना जाता है, जिसमें कई ऐसे पौष्टिक तत्व होते हैं, जिनके बारे में आपको शायद ही पता हो. बिना चीनी के ग्रीन-टी में बिल्कुल कैलोरी नहीं होती है. ग्रीन-टी में फ्लेवेनॉल और कैटेकिन होता है, जो एक तरह का पॉलीफेनोल (पोषक तत्व) माना जाता है. ग्रीन टी को सुबह सबसे पहले ग्रीन टी नहीं लेना चाहिए नाश्ते के साथ आप इसे ले सकते हैं. दोपहर के भोजन के एक घंटे के बाद पिएं और सोने से पहले भी आप ग्रीन टी का इस्तेमाल कर सकते हैं. व्यायाम के आधे घंटे पहले भी ग्रीन टी पीना चाहिए इससे फायदा जरूर मिलता है.


ग्रीन टी के प्रकार- Types of Green tea


चाय के कई प्रकारों में ग्रीन टी का उत्पादन और सेवन भी आमतौर पर लोग करते हैं. ग्रीन टी के उत्पादन, खेती और फसल समय के अनुसार होता है. ग्रीन टी की भी कुछ प्रकार होते हैं-

सेन्चा- यह ग्रीन टी सबसे ज्यादा सेवन करने के लिए पहचाना जाता है. इसका निर्माण आम प्रक्रिया द्वरा ये किया जाता है, जिसमें पत्तियों को धूप में सुखाकर भांप के जरिए चाय तैयार होती है.

फुकमुशी सेन्चा- फुकमुशी का मतलब होता है लंबे समय तक उबला हुआ, यह ग्रीन टी भी एक प्रकार है जो सेन्चा के मुकाबले लंबे समय तक उबाला जा सकता है. क्योंकि इस प्रक्रिया में पत्तियों को भाप की गर्मी से पूरी तरह से उजागक नहीं किया जा सकता है इसलिए वे पाउडर बन जाते हैं और चाय का स्वाद बढ़ जाता है.

ग्योकुरो- यह पूरी सूर्य की किरण के बजाय छाया में उगायी जाती है और ये सेन्चा ग्रीन टी से बिल्कुल अलग होती है. चाय की झाड़ियों को चुनने के लगभग 20 दिन पहले कपड़े या रीड स्क्रीन से ढका जाता है.

क्यूबुसेचा- चुने में लगभग एक हफ्ते पहले क्यूबसेचा झाड़ियों को अधिकां धूप की रोशनी से बचाने के लिए कपड़े से ढका जाता है.


ग्रीन टी पीने के फायदे- Green Tea ke fayde Hindi Mein


पारंपरिक चीनी और भारतीय चिकित्सा में ग्रीन टी का इस्तेमाल रक्तस्राव को नियंत्रित करने, घाव को टीक करने, पाचन तंत्र सही रखने, दिल और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार करने के साथ शरीर के तापमान को कंट्रोल करने के लिए किया जाता था. रिसर्च के मुताबिक चाय वजन घटना, यकृत विकार, टाइप 2 मधुमेग, अल्जाइमर रोग और दूसरे कई समस्याओं पर पॉजीटिव प्रभाव डालती है. ग्रीन टी कई आम स्वास्थ्य संबंधित परेशानियों के लिए चमत्कार कर सकती है. सिर्फ तीन से चार कप ग्रीन टी आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है तो चलिए बताते हैं ग्रीन टी पीने के फायदे क्या होते हैं ?

वजन कम करने के लिए- ग्रीन टी को वजन कम करने की दवाई माना जाता है. इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट, मेटाबॉलिज़्म को बढाकर वज़न कम करने में मदद करता है. इसमें मौजूद सक्रीय यौगिक, फैट बर्निंग हार्मोन को भी प्रभावित करता है. यूके में हुए एक अध्ययन में पाया गया है कि ग्रीन ची पीने से मध्यम तीव्रता के व्यायाम से फैट ऑक्सीडेशन बढ़ता है और मोटापे से बचाता है.

डायबिटीज के लिए- ग्रीन टी शरीर की कोशिकाओं को संवेदनशील करती है, जिससे वो चीनी को अच्छे से हजम कर सके. मधुमेह के प्रभाव को कम करने के लिए भी ग्रीन टी लाभकारी होती है और ऐसा भी कहा जा सकता है कि ग्रीन टी से डायबिटीज का खतरा कम हो सकता है क्योंकि इसमें मौजूद पॉलीफेनोल्स शरीर में ग्लूकोज के स्तर को संतुलित करता है.

रोगप्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए- ग्रीन टी में मौजूद कैटेकिन रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है. चाय इम्युनिटी को बढ़ाकर ऑक्सीडेंट्स के खिलाफ सुरक्षा करती है औक ग्रीन-टी में ईजीसीजी रेगुलेटरी मौजूद होता है, जो टी सेल्स को बढ़ाता है और इम्यून फंक्शन कंट्रोल होकर ऑटोम्यून्यून रोगों को बढ़ने से रोकता है.

पाचन क्रिया के लिए- ग्रीन टी में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट पाचन क्रिया को सुधारने का काम करता है और इसमें मौजूद कैटेकिन पाचन एंजाइम की क्रिया को भी रोकता है. आंत सारे कैलोरी को अवशोषित नहीं करती, जिससे वज़न कम होता है और ग्रीन-टी में ईजीसीजी पाया जाता है, जो कोलाइटिस के लक्षणों में सुधार करता है. कोलाइटिस एक प्रकार की सूजन होती है, जिससे पाचन क्रिया प्रभावित होती है.


Lipton Green Tea ke Fayde

कैंसर से बचन के लिए- एक रिसर्च के मुताबिक ग्रीन टी कुछ खास प्रकार के कैंसर जैसे फेफड़े, त्वचा, स्तन, लिवर, पेट और आंत से व्यक्ति की रक्षा कर सकता है. ईजीसीजी स्वस्थ कोशिकाओं को प्रभावित किए बिना कैंसर कोशिकाओं को मारता है. कुछ शोध के अनुसार कैंसर के इलाज के समय एक दिन में चार कप ग्रीन टी पीना अच्छा होता है.

गठिया के लिए- ग्रीन टी में ईजीसीजी के एंटीऑक्सीडेंट प्रभाव शरीर में छोटे-छोटे मॉलिक्यूल के उत्पादन को सीमित करता हैं, जो सूजन और गठिया दर्द का कारण बन जाते हैं. ग्रीन-टी हड्डियों के स्वास्थ्य में सुधार लाता है और ऑस्टिओआर्थइराइटिस फायदा करता है. ग्रीन टी में मौजूद ईजीसीजी आर्थराइटिस पर काफ़ी प्रभावी माना जाता है. ग्रीन-टी में मौजूद ईजीसीजी, रूमेटोइड गठिया में सूजन को कम करके आराम पहुंचाता है.

हृदय के लिए- हार्वर्ड मेडिकल स्कूल की एक रिपोर्ट के अनुसार ग्रीन टी हृदय दिल के लिए फायदेमंद होता है, जिसका सेवन हृदय की बीमारियों को व्यक्ति से दूर रखता है. ग्रीन टी हानिकारक कोलेस्ट्रॉल, जिससे ह्रदय रोग का खतरा रहता है, उस स्तर को कम कर सकती है. ग्रीन टी, कार्डियोवैस्कुलर बीमारी (cardiovascular disease) का एक मुख्य कारण एथरोस्क्लेरोसिस को रोकने में मदद कर सकता है.

तनाव दूर करने या मानसिक स्वास्थ्य के लिए- चूहों पर किए गए एक रिसर्च में ग्रीन टी में मौजूद पॉलीफेनोल्स तत्व एंटीडिप्रेसंट का प्रभाव उत्पन्न करता है. ग्रीन टी में मौजूद कैफीन भी तनाव के इलाज में मुख्य भूमिका निभाता है. एक दिन में दो कप ग्रीन टी पीने से तनाव कम होता है. ग्रीन में पाए जाने वाले कैफीन की मात्रा कॉफी से कम होती है जो मस्तिष्क के लिए अवरोधक न्यूरोट्रांसमीटर की गतिविधि को रोकता है. ग्रीन टी का एमिनो एसिड, गाबा की गतिविधि को बढ़ाता है जो तनाव और चिंता को कम करता है.


ग्रीन टी पीने के अन्य फायदे- Green Tea peeni ke fayde


1. शोध के अनुसार, ग्रीन टी वजन घटाने में काफी मददगार होती है और इससे शरीर का मेटाबॉयोलिज्म अच्छा रहता है.

2. ग्रीन टी मधुमेय यानी डायबिटीज से बचाने में मदद करती है.

3. ग्रीन टी से ह्रदय संबंधी बीमारियां होने का खतरा बहुत कम हो जाता है.

4. ग्रीन टी से कोलेस्ट्राल को नियंत्रित रखने में मदद होती है.

5. ग्रीन टी पीने वालों को स्किन संबंधी कोई समस्या नहीं आती है.

6. ग्रीन टी पीने से कमजोर दांत सही रहते हैं और जिनके दांत समय से पहले गिरने लगे हों तो उन्हें इसका सेवन करना चाहिए.

7. ग्रीन टी ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने मदद करती है

8. ग्रीन टी एंटी वायरल और एंटी बैक्टीरियल होती है जिससे बुखार में भी आप इसे लेकर ठीक हो सकते हैं.

9. अगर आप हर दिन ग्रीन टी पीते हैं तो तनाव से बचे रह सकते हैं और डिप्रेशन में ग्रीन टी काफी लाभदायक होता है.




शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये