सिर्फ फायदा ही नहीं नुकसान भी करता है ठंडा पानी

11 जून 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (95 बार पढ़ा जा चुका है)

भयंकर धूप से जब हम अपने घर को जाते हैं तो पसीने से लतपत व्यक्ति को अगर फ्रिज का ठंडा-ठंडा पानी मिल जाए तो ऐसा लगता है मरते हुए को संजीवनी बूटी मिल गई हो. ठंडा पानी पीने में बहुत मजा आती है लेकिन कभी-कभी इसके कुछ नुकसान होने से शरीर में कुछ विषाक्त चीजें शामिल हो जाती हैं. गर्मियों के मौसम में घर हो या बाहर प्यास तो बहुत लगती है और अगर इस प्यास को बुझाने के लिए हम सभी पानी पीते हैं लेकिन अक्सर पानी पीने के बाद यह शिकायत करते हैं कि नॉर्मल पानी से प्यास नहीं बुझती है हमें ठंडा पानी चाहिए. इसी में बहुत से लोग कहते हैं कि ठंडा का पानी कभी-कभी तो ठीक है लेकिन हमेशा पीने से नुकसान करता है. यहां मै आपको thanda paani pine ke fayde or nuksaan दोनों के बारे में बताने जा रही हूं.


thanda paani pine ke fayde or nuksaan


ठंडा पानी पीने के फायदे


पानी जीवन का आधार होता है लेकिन ऐसा तभी हो सकता है जब वो शुद्ध और साफ होने के साथ कम ठंडा हो. बहुत ही चिल्ड पानी पीना सेहत के लिए सही नहीं होता है और हमें हमेशा कम ठंडा पानी पीना चाहिए इससे शरीर में फैट कम बढ़ता है. पानी पीने के फायदे तो हर किसी को पता होते हैं लेकिन ठंडा पानी पीने के भी कुछ फायदे होते हैं जिनके बारे में आपको जानना चाहिए.

मेटाबोलिज्म बढ़ाने में- शरीर में कैलोरी घटाने के लिए सामान्यरूप से कई उपाय हैं लेकिन ठंडा पानी पीने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इससे शरीर की कैलोरी तो कम होती ही है. इसके साथ ही उपापचय की दर भी बढ़ने लगती है और हमारे शरीर के तापमान सामान्य और बेहतर बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत की जरूरत होती है. ठंडा पानी शरीर के तापमान और मेटाबॉलिज्म को भी अच्छा बनाने में मददगार होता है.

चेहरे पर चमक लाने में- स्वास्थ का सीधा असर व्यक्ति के चेहरे पर दिखने लगता है और कुछ लोगों का तो मानना है कि गरम पानी त्वचा के लिए अच्छा होता है जबकि ठंडा पानी भी आपकी त्वचा को निखार सकता है. ठंडा पानी पीने से त्वचा में ब्लड के सर्कुलेशन को ठीक रखता है जिससे चेहरा भी चमक उठता है. आमतौर पर जीवन में देखा जा सकता है कि ठंडा पानी पीने वालों का चेहरा हमेशा चमकता रहता है.

हार्मोन रेगुलेट करने में- हमारा पूरा शरीर के लिए हार्मोन बहुत जरूरी होता है लेकिन ज्यादातर लोगों को ये नहीं मालूम होता है कि हार्मोन के लिए पानी कितना जरूरी होता है. खासकर टेस्टोस्टेरोन और एस्ट्रोजन के लिए और यह सिर्फ हार्मोन को ही संतुलित नहीं रखता है बल्कि ठंडा पानी पीने से सेक्स करने की क्षमता भी बढ़ जाती है और हार्मोन लेवल भी बढ़ जाता है.

एनर्जी के लिए- स्किन के नीचे मौजूद टेम्परेचप सेंसर को ज्यादा सक्रिय करने में ठंडे पानी का ज्यादा योगदान रहता है. जब से सेंसर ज्यादा सक्रिय होता है तो हृदय की गति भी तेजी से बढ़ने लगता है और यह शरीर को अतिरिक्त एनर्जी प्रदान करने लगता है और सुस्ती को दूर करके दिनभर आपको एनर्जी के साथ काम करने में मदद करेगा.

तनाव कम करने में- आपने अक्सर ऐसा सुना होगा कि अगर घबराहट या तनाव होता है तो लोग कहते हैं ठंडा पानी पीना चाहिए. असल में ठंडा पानी मूड को अच्छा बनाता है और ठंडा पानी पीने से हमारे मस्तिष्क का ओर्बिटोफोंटल कॉर्टेक्स हमारे मूड से जुड़ा रहता है और जब हम ठंडा पनी या बर्फ वाला पानी या ठंडा पेय पदार्थ पीते हैं तो मस्तिष्क उत्तेजित होने लगता है. ठंडा पानी पीने से तनाव कम करता है मन को प्रसन्न ऱखने में मदद करता है.

दर्द कम करने में- बहुत से लोग जानते हैं कि पानी पीने से शरीर ज्यादा एक्टिव रहता है लेकिन ठंडा पानी पीने से यह शरीर और मस्तिष्क के हल्के दर्द को भी कम कर देता है. ठंडा पानी दर्द को ही कम नहीं करता बल्कि बर्फ का पानी क्षतिग्रस्त मांसपेशियों में सामान्य ब्लड सेल्कुलेशन को कम करके उसमें ऑक्सीजनयुक्त ब्लड के प्रवाह को ज्यादा बढ़ जाता है और दर्द को कम कर ठीक होने में मददगार होता है.

प्रतिरक्षा बढ़ाने में- शरीर में अकडन दूर करने के लिए प्रतिरक्षा क्रियाओं को बढ़ाने और शरीर को स्वस्थ रखने के लिए ठंडे पनी की जरूरत होती है. ठंडा पानी पीने से शरीर में सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या बढ़ती है और इम्यून सिस्टम भी बेहतर रहता है. इसलिए शारीरिक गतिविधियों या वर्कआउट के बाद ठंडे पानी का सेवन करना चाहिए.


thanda paani pine ke fayde or nuksaan


ठंडा पानी पीने के नुकसान


समान्य पानी की अपेक्षा ठंडा पानी या बर्फ वाला पानी का असर शरीर में ज्यादा होता है. इसकी वजह से नाक बहने की समस्या या गला खराब होने की समस्या आम बात है. ठंडा पानी मन और शरीर को मिलने वाली ठंडक तो दूर कर देता है लेकिन इससे कुछ नुकसान हमारा शरीर सह नहीं पाता है और ये हमें पता भी नहीं चल पाता है. हमारी सेहत के लिए पूरी तरह से अच्छा नहीं होता है, अब चलिए बताते हैं आपको ठंडा पानी पीने के कुछ नुकसान.

1. ठंडा पानी पीने से मन को सुकून मिलता है लेकिन एक जो प्यास होती है वो नॉर्मल पानी को पीने से ही भरती है. ठंडा पानी दिल की गति को धीमा कर देता है और इससे वेगस तंत्रिका प्रभावित हो जाती है.

2. जो लोग ठंडा पानी पीते हैं उन्हें पेट की समस्या बनी रहती है. ठंडा पानी पीने से पाचन क्रिया में बाधा आती है और इससे नसें भी सिकुल जाती हैं. जो लोग ज्यादा ठंडा पानी पीते हैं उनमें आप पेट की समस्या अक्सर पाएंगे.

3. ज्यादा ठंडा पानी गले के लिए नुकसानदेह बोता है और अगर आप ऐसा सोचते हैं कि ये लोगों का बहाना होता है तो ऐसा नहीं है. ठंडा पानी पीने से श्वसन तंत्र मं म्यूकोसा नाम की सुरक्षात्मक परत संकुलित होती है इसी से गला खराब हो जाता है.

4. ठंडा पानी खाने के पोषक तत्वों को नष्ट कर देता है और अगर आप पोषक आहार लेने के बाद ठंडा पानी पी लेते हैं तो आपको कोई पोषक तत्व नहं मिलेगा. व्यक्ति के शरीर का तापमान 37 डिग्री सेल्सियस होता है जब हम ठंडी चीज पीते हैं तो उसे शरीर के तापमान के बराबर लाने के लिए ऊर्जा खर्च करनी पड़ती है.

5. बर्फ वाला पानी पीने से पेट में दर्द, मरोड़ और जी मिचलाना जैसी समस्याएं शुरु हो सकती हैं. इसकी वजह से पेट में कड़ापन आ सकता है और भोजन पचने में भी समस्या होती है.



अभय शंकर
18 जून 2019

Thank you for sharing such a beautiful information.

शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये