विशेषज्ञ की राय - इन 10 उपायों से करें बच्चों का वजन कम

28 जून 2019   |  शब्दनगरी संगठन   (69 बार पढ़ा जा चुका है)

विशेषज्ञ की राय - इन 10 उपायों से करें बच्चों का वजन कम

विशेषज्ञ का संक्षिप्त परिचय

मेरा नाम डॉ. काजल अग्रवाल है और मैं नैदानिक आहार, पोषण विशेषज्ञ हूं जिसमें जीवनशैली को बेहतरीन तरीके और Tipsfor Slim बताते हुए बेहतर तरीके से जीवन जीना सिखाती हूं. मैंने दिल्ली यूनिवर्सिटी के लेडी इरविन कॉलेज से खाद्य और पोषण में बी.एससी किया है और VLCC से डाइटिक्स और पोषण में डिप्लोमा भी प्राप्त किया है। मुझे इस क्षेत्र में करीब 2 साल से अधिक अनुभव है और अब मैं ‘Perfect Diets ’ - Health and Wellness center के साथ काम करती हूं।


प्रश्न - कौन सी मुख्य बीमारियाँ है जो मोटापे का कारण है ?

उत्तर - बढ़ते वजन के पीछे कई कारण है पर कुछ बीमारियाँ जो शरीर में मोटापा लाती है :

डायबिटीज टाइप-2

कॉन्जेस्टिव हार्ट फेलर

हार्ट अटैक

पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि डिस्ऑडर

बांझपन

पेट से जुड़ी समस्याएं

एसिडिटी

लिवर में फैट

पित्त में पथरी

हार्निया

स्तन कैंसर

प्रजनन क्षमता अस्थिर

कोशिकाएं

गठिया

जोडो़ं में दर्द

कब्ज

एसिड प्रतिवाह


प्रश्न - बच्चों में मोटापा तेजी से क्यों बढ़ रहा है ?

उत्तर - बच्चों में मोटापा ( child obesity ) - इन वजहों से दिन पर दिन बढ़ता जा रहा है :

अस्थिर जीवनशैली

मोबाइल फोन, लैपटॉप आदि

बाहरी खेलों से दूरी

माता-पिता बच्चों को आज के खराब समय की वजह से बाहर खेलने नहीं भेज रहे.

प्लेग्राउंड्स खाली रहते हैं जहां उन्हें खेलना चाहिए

पढ़ाई का का सबसे ज्यादा प्रेशर

स्कूल में भी अब ज्यादा एक्टिविटीज नहीं करवाते हैं

जंक फूड

माता-पिता द्वारा ज्यादा केयर होना

लापरवाही किसी दूसरे कारण से


प्रश्न - बच्चों को मोटापे से किस प्रकार के खतरे है ?

उत्तर – अधिक वजन के कारण बच्चो को अक्सर कोई न कोई बिमारी लगी रहती है तथा उनका शरीर अक्सर शिथिल रेहता है। वे इन रोगों से ग्रस्त हो सकते हैं-

कॉलेस्ट्रॉल का बढ़ना

हाई ब्लड प्रेशर

कम उम्र में हृदय संबंधित बीमारी का होना

डायबिटीज का होना

डिप्रेशन के कारण

फफूंद संक्रमण का होना

सांस फूलना तथा सांस से संबन्धित रोग

प्रश्न - बच्चों की कौन सी आदतें उन्हें कम उम्र में ही मोटापे की ओर ले जा रही है ?

उत्तर – बच्चों की आदतें कहीं न कहीं घर के बड़ों के कारण भी बिगड़ रही हैं और बाकी अब बच्चें खुद बहुत तेज़ हैं । वे आदतें जो उन्हें मोटा बनाती हैं -

जंक फूड के संपर्क में आने से

जरूरत से ज्यादा नमक वाला खाना

हाथ में हमेशा भारी फोन का होना

जो खेलना नहीं चाहते हैं

बिल्कुल भी शारीरिक एक्टिविटीज नहीं करना

पढ़ाई का अधिक प्रेशर होना

घर का खाना, लंच बॉक्स नहीं ले जा रहे हैं

प्रश्न - बच्चों में बढ़े हुए वजन को नियंत्रित करने के आसान उपाय क्या हैं ?

बच्चों के मोटापे को कैसे दूर करने के समाधान (how to lose the baby weight)

बच्चों को शारीरिक क्रियाएं करवाएं

कोशिश करें कि उन्हें घर पर खाने में दिलचस्पी बढ़े

बच्चों को सही मात्रा में पानी का सेवन कराएं

स्नैक्स में भी कुछ स्वास्थ्य वर्धक घर में बनी चीजें हीं दें

रोटी या कम तेल मे बने खाने का सेवन (साधारण पराठा, पनीर पराठा और अंडे का पराठा इत्यादि)

वजन और Pet Kam Karne Ki Exercise कराएं


कोई भी स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या हो तो क्लिक कर 👉 हमसे बात करें !


child obesity solutions


प्रश्न - यदि बच्चों में मोटापा आनुवांशिक है तो क्या वजन कम करना संभव है, अगर हां तो कैसे ?

उत्तर - वजन सिर्फ नंबर होता है और जिसे इन टिप्स से दूर करिए-

बच्चों को शारीरिक एक्टिविटी ज्यादा से ज्यादा कराएं.

वे डांस क्लासेस, एरोबिक और ज़ुम्बा, आदि करें और जानें yoga karne ke tarike

उन्हें टिफिन दें और बताएं कि उन्हें उसे पूरा खाना है, ऐसा होने पर एक दो बार उन्हे कुछ अच्छा उपहार देकर खुश करें

स्नैक्स में में उन्हें कटे हुए फल, ड्राई फ्रूट्स खाने को दें

उन्हें स्कूल जाते समय पैसे ना दें

उन्हें बैलेंस डाइट (shishu ka vajan chart) को फॉलो करने के लिए कहें


प्रश्न - मोटापे से ग्रसित बच्चों के लिए मांसाहार का सेवन उचित है ? यदि हां तो कितनी मात्रा में ?

उत्तर - . बच्चों को नॉनवेज एक लिमिट में खिलाएं. नॉनवेज में रोस्टेड चीजें और मछली ज्यादा खिलाएं क्योंकि इसमें पाया जाने वाला ओमेगा-3 और ओमेगा-6 बहुत फायदेमंद होता है. वे मछलियों में रोहू, सलमन ले सकते है लेकिन इनका सेवन भी ज्यादा नहीं करें. मैं मटन और चिकन के लिए नहीं बोलूंगी क्योंकि वे सभी हार्मोन पर आधारित होते हैं. ऐसा इसलिए क्योंकि उसमें कई तरह के मिलावटी चीजें होती हैं जिनकी वजह से कई सारी समस्याएं पैदा होने लगती हैं क्योंकि इन सब में वसा पाया जाता है. नॉनवेज में अगर कभी-कभी चाहें तो डिनर में बोन ब्रोथ सूप ले सकते हैं.इसके साथ साथ बच्चों को Weight loss Tips


प्रश्न - क्या मोबाइल और टीवी की आदतें बच्चों में असंतुलित वजन का कारण बन रही है ?

उत्तर - मोबाइल और टीवी मोटापे का कराण है. नई तकनीकें हमारे बच्चों का वजन दिन पर दिन बढ़ा रहे हैं. उन्हें बाहर खेलने का मन नहीं करता और वे पूरा समय लैपटॉप, मोबाइल और गेम्स खेलने में लगे रहते हैं. इस तरह की लाइफस्टाइल उन्हें वास्तव में मोटा बना रहे हैं. तो माता-पिता और बड़ों को उन्हें बाहर खेलने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए और बड़ों को उन्हें ज्वाइन करके बताना चाहिए कि ये हेल्थ के लिए अच्छा होता है जिससे normal baby weight बना रहेगा


प्रश्न - मोटापे से ग्रसित बच्चों के मोटिवेशन के लिए अभिभावकों और स्कूलों को क्या उपाय करने चाहिए ?

उत्तर – कुछ टिप्स जिनका पालन स्कूल और इंस्टिट्यूट में भी हो सकता है और वो भी समझ पाएंगे की कितना ज़रूरी है how to lose baby weight -

लोगों में हेल्थ की जागरुकता के लिए स्ट्रीट प्लेज कर सकते हैं.

स्कूल में हेल्थ फूड को लेकर कई स्कूल में वाद-विवाद करवाना चाहिए

लंच और स्नैक्स का समय बनाइए

जंक फूड खाने का एक रूल बनाएं और उनके लंच में ऐसे खाने को भी आपको नहीं देना चाहिए

कैंटीन में हैल्दी खाना सर्व होना चाहिए

आजकल लोग मोटापा कम करने के टोटके और टिप्स सर्च करते हैं लेकिन अक्सर लापरवाही के कारण अपना लक्ष्य पूरा नहीं कर पाते तक नहीं पहुंच पाते , इसलिए अपनी और अपने बच्चे की अच्छी सेहत का ख्याल रखते हुए दृढ़संकल्पी बनें.


छोटी हो या बड़ी, कोई भी स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या हो तो क्लिक कर 👉 हमसे बात करें ! हम आपकी अच्छी सेहत की कामना करते है !!!




शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये