डायबिटीज के मरीज जरूर खाएं लिट्टी-चोखा, जानें इसे खाने से होने वाले 7 फायदे क्या हैं

18 सितम्बर 2018   |  रेखा यादव   (83 बार पढ़ा जा चुका है)

डायबिटीज के मरीज जरूर खाएं लिट्टी-चोखा, जानें इसे खाने से होने वाले 7 फायदे क्या हैं

बिहार का फेमस फूड लिट्टी-चोखा अपने बेहतरीन स्वाद के कारण आज दुनिया भर में प्रसिद्ध होता जा रहा है। लोग इसे बड़े चाव से खाना पसंद करते हैं। जो इसे खाते हैं, वह कई तरह के सेहत लाभ का भी फायदा उठाते हैं, लेकिन जो लोग इसे नहीं खाते वे कई तरह के इससे होने वाले सेहत लाभ से वंचित रहते हैं। क्या आप जानते हैं कि लिट्टी-चोखा स्वाद में जितना दमदार है, उतना ही इसे खाने से कई तरह की बीमारियों से आप बचे रह सकते हैं। आइए जानते हैं लिट्टी-चोखा खाने के फायदों के बारे में-

1 जिन लोगों को डायबिटीज है, उन्हें लिट्टी-चोखा जरूर खाना चाहिए। लिट्टी खाने से इन्सुलिन रेसिस्टेंट मरीजों में हार्मोन डिसऑर्डर के नियंत्रण में काफी हद तक मदद मिलती है। लिट्टी सत्तु से बनता है। सत्तु भुना हुए चना से तैयार होता, जो इन्सुलिन रेसिस्टेंट की समस्या को कंट्रोल करने में मदद करता है।

2 यह शुगर लेवल को भी नियंत्रित करता है। कई बार मरीजों को इन्सुलिन नियंत्रित करने के लिए कई महीनों तक कुछ दवाइयां दी जाती हैं। दरअसल, मेटाबॉलिज्म के तहत इन्सुलिन खून में मौजूद शुगर को पचाने के काम करता है। इन्सुलिन रेसिस्टेंट डायबिटीज का शुरुआती लक्षण होता है। तो यदि आपको डायबिटीज है, तो बिना संकोच किए इस स्वादिष्ट व्यंजन का मजा उठाइए।

3 यह सत्तू और बैंगन से बनता है, ऐसे में आपको न सिर्फ सत्तू के फायदे मिलते हैं, बल्कि बैंगन में मौजूद पौष्टिक तत्वों का भी शरीर पर लाभ होता है।

4 बैंगन का चोखा खाने से कोलेस्ट्रॉल लेवल कम रहता है। ऐसे में यह डायबिटीज के मरीजों के साथ-साथ ब्लड प्रेशर और हृदय से संबंधित समस्याओं से ग्रस्त लोगों के लिए भी बेहद हेल्दी फूड है। इसके अलावा इसमें पोटैशियम और मैंगनीशियम भी अधिक होता है, जिसकी वजह से कोलेस्ट्रॉल का स्तर नहीं बढ़ता है। बैंगन से कैलोरी बर्न होती है। चूंकि लिट्टी के लिए चोखा बैंगन से ही तैयार होता है, इसलिए वजन कम करने वाले लोगों को इसका सेवन प्रतिदिन करना चाहिए। यदि आप चाहते हैं कि आपका दिल लंबी उम्र तक स्वस्थ रहे, तो लिट्टी और बैंगन से बने चोखा को जरूर खाएं।

5 कुछ लोग चोखा में बैंगन के अलावा टमाटर आलू भी डालकर तैयार करते हैं। साथ ही हरी मिर्च, अदरक होने से आप एक साथ कई सब्जियों के पौष्टिक तत्वों को खाते हैं।

6 लिट्टी बनाने के लिए आटे का इस्तेमाल होता है। ऐसे में आप कई गेहूं और जौ का आटा इस्तेमाल कर सकते हैं। आटे की लोई के अंदर सत्तू के मसाले की स्टफिंग की जाती है। मिक्स ग्रेन के सेवन से न सिर्फ आपको फाइबर मिलता है, बल्कि इन्हें खाने से शरीर में एनर्जी भी बरकरार रहती है।

7 गर्मी के दिनों में जब आप सत्तू से बने खाद्य पदार्थों का सेवन करते हैं, तो आपको लू नहीं लगती। इसमें फाइबर काफी अधिक होता है, जिससे पाचन सही बना रहता है, तो फिर आज से ही आप खाना शुरू कर दें स्वादिष्ट लिट्टी-चोखा।

डायबिटीज के मरीज जरूर खाएं लिट्टी-चोखा, जानें इसे खाने से होने वाले 7 फायदे क्या हैं

https://www.ekbiharisabparbhari.com/2018/09/18/famous-litti-cholha/

डायबिटीज के मरीज जरूर खाएं लिट्टी-चोखा, जानें इसे खाने से होने वाले 7 फायदे क्या हैं



© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये