क्या है डेंगू बीमारी ? इसके लक्षण, बचाव और उपचार || Dengue Ke Lakshan In Hindi

27 मार्च 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (187 बार पढ़ा जा चुका है)

Dengue Ke Lakshan In Hindi- डेंगू बीमारी मच्छरों के काटने से फैलती है और इसमें मरीज को दर्द के साथ-साथ कमजोरी भी भयंकर रूप से हो जाती है. डेंगू वायरल जनित बीमारी है जो एडीज मच्छर के काटने से हो जाता है. डेंगू मच्छर गंदे पानी के बजाए साफ पानी में नजर आता है इसलिए घर के अंदर या आसपास पानी बिल्कुल नहीं जमने दें. बरसात के मौसम में गमलों, कूलरों, टार जैसी चीजों में भी मच्छर इकट्ठा होते हैं और फिर बीमारी की शुरुआत हो सकती है. Dengue Ke Lakshan In Hindi इसके बारे में आपको डिटेल पता होनी चाहिए.


डेंगू से क्या हो सकते हैं लक्षण? - Symptoms of dengue

डेंगू के लक्षण


डेंगू में पहले बुखार आता है इसके बाद बॉडी पेन होता है और धीरे-धीरे पूरा शरीर डेंगू की गिरफ्त में आ जाता है.वैसे इसके तीन खास लक्षण होते हैं.

साधारण डेंगू बुखार - ठंड देकर तेज बुखार आ आ जाना, इसके साथ ही सिर और मांसपेशियों में भीषण दर्द होना, आंखों के पिछले हिस्से में दर्द होना, भूख नहीं लगना, जी मिचलाना और मुंह का स्वाद खराब हो जाना डेंगू के सबसे तेजी से पकड़े जाने वाले लक्षण हैं. क्लासिकल साधारण डेंगू बुखार 5 से 7 दिन तक रहने के बाद ठीक हो जाता है.

हैमरेजिक डेंगू बुखार - इसमें नाक और मसूड़ों से खून आने लगता है और शौच या उल्टी में भी खून आना शुरु हो जाता है. स्किन पर गहरे नीले-काले रंग के छोटे-छोटे चकत्ते पड़ने लगते हैं. अगर क्लासिकल साधारण डेंगू बुखार के लक्षणों के साथ ये लक्षण भी दिखाई देते हैं तो उनका ब्लड टेस्ट सबसे पहले करवाएं.

डेंगू शॉक सिंड्रोम (DSS) - इस बुखार में DHFके लक्षणों के साथ ही शॉक अवस्था के कुछ लक्षण दिखाई देते हैं. जिसमें मरीज को बेचैनी होती है और ठंड देकर तेज बुखार आ जाता है. मरीज की नाड़ी कभी तेज तो कभी धीमी चलने लगती है और इसमें ब्लड प्रेशर भी लो हो जाता है.


इस तरह से करें डेंगू से बचाव- Dengue remedies


डेंगू के लक्षण


डेंगू एक ऐसी बीमारी है जिसमें बहुत से लोगों की जान चली जाती है और कबी-कभी लोगों को इसके बारे में जानकारी ना होने के कारण भी अपना बचाव नहीं कर पाते हैं. मगर मेरी आपको सलाह है कि डेंगू के लक्षण नजर आते ही डॉक्टर से कंसर्न करना चाहिए क्योंकि इस बीमारी से ज्यादा समय तक घरेलू उपचार से नहीं लड़ा जा सकता. लेकिन अगर आपने इसका इलाज डॉक्टर को कराना शुरु कर दिया है तो इन घरेलू उपचारों से आप कंट्रोल में रह सकते हैं.

1. खाने में जितना हो सके विटामिन सी से भरपूर चीजें खाएं. विटामिन सी आपको स्वस्थ रखने मेंं मदद करता है और ये रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है.

2. किसी भी रूप में हल्दी जरूर खाएं. इसे आप खाली हल्दी के रूप में भी खा सकते हैं या फिर सब्जी, खिचड़ी या फिर शहद के साथ भी ले सकते हैं. इसके अलावा हल्दी वाला दूध खूब फायदा करता है.

3. तुलसी और शहद को मिलाकर रोज खाएं ये डेंगू से बचाव में फायदा करता है. इसके लिए तुलसी को पानी में उबालर उसमें शहद मिलाकर पिएं.

4. डेंगू में पपीता रामबाण इलाज होता है. पपीते के पत्ते का रस निकालकर दिन में दो बार लगभग 2 से 3 चम्मच की मात्रा में लें इससे भी डेंगू में बचाव होता है.

5. डेंगू बुखार के दौरान शरीर में जो खून की कमी हो जाती है उसे अनार पूरा कर देता है. इसमें विटामिन ई, सी, ए और फोलिक एसिड पाया जाता है जो सेहत के लिए फायदेमंद होता है.

6. डेंगू होने पर आपको बाहर का कुछ भी नहीं खाना चाहिए, और हमेशा हाईजेनिक भोजन ली लेना चाहिए क्योंकि इस बीमारी में गंदगी बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो पाती और फिर इसका असर आपकी सेहत पर पड़ने लगेगा.

7.डेंगू के मरीजों को एक गिलास मुसम्मी का जूस जरूर पीना चाहिए क्योंकि ये आपकी गिरती हुई सेहत का बैलेंस बनाकर रखता है और आपको आराम महसूस होगा.

8. डेंगू से बचने के लिए मच्छरों से बचना बहुत जरूरी होता है जिनसे डेंगू के वायरस फैलते हैं.

9.कहीं भी कूड़ा नहीं फेंके, पानी का जमाव नहीं होने दें इसके अलावा कूलर या गमलों को साफ करते रहें.

10. मच्छरों से बचने का हर संभव प्रयास करना चाहिए जैसे मच्छरदानी लगाइए, पूरी बांह का कपड़ा पहनिए या फिर ऑलआउट लगाकर सोना चाहिए.

11. बदलते मौसम में अगर आप किसी नयी जगह पर जा रहे हैं तो मच्छरों से बचने के सभी उपायों को साथ लेकर जाएंं.

12. 5 दिन से ज्यादा समय तक बुखार आने पर ब्लड टेस्ट जरूर करा लें और बुखार के समय मच्छरों को अपने पास भटकने भी नहीं दें.




शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये