एस्पिरीन टैबलेट || Aspirin Tablet In Hindi

28 मार्च 2019   |  डॉ मुकुल पांडेय   (72 बार पढ़ा जा चुका है)

एस्पिरीन टैबलेट || Aspirin Tablet In Hindi

एस्पिरिन को एक सैलिसिलेट और एक नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग (NSAID) के रूप में जाना जाता है। एस्पिरिन का उपयोग बुखार को कम करने और हल्के से

मध्यम दर्द जैसे मांसपेशियों में दर्द, दांत दर्द, सामान्य सर्दी और सिरदर्द से राहत देने के लिए किया जाता है। गठिया जैसी स्थितियों में दर्द और सूजन को कम करने के लिए

भी इसका उपयोग किया जा सकता है। यह आपके शरीर में दर्द और सूजन को कम करने के लिए एक निश्चित प्राकृतिक पदार्थ को अवरुद्ध करके काम करता है। डॉक्टर आपको रक्त के थक्कों को रोकने के लिए एस्पिरिन की कम खुराक लेने की सलाह दे सकता है इसका प्रभाव स्ट्रोक और दिल के दौरे के खतरे को कम करता है। एस्पिरिन टैबेलेट Aspirin Tablet 50mg, 100mg और 500mg की क्षमता में ड्रग स्टोर पर उपलब्ध है।


एस्पिरिन का उपयोग और लाभ


यदि आप बिना डॉक्टर के सलाह के स्व-उपचार के लिए यह दवा ले रहे हैं, तो उत्पाद पैकेज पर सभी निर्देशों का पालन करें। यदि आप किसी भी जानकारी के बारे में सुनिश्चित

नहीं हैं, तो अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट से परामर्श करें। इस दवा को आप एक गिलास पानी के साथ ले सकते है। अगर इस दवा के सेवन से आपका पेट खराब हो जाता है तो

आप इसे भोजन या दूध के साथ ले सकते है। एस्पिरिन की संपूर्ण गोली निगलें। एंटिक-कोटेड गोली को कुचलकर या चबाकर नहीं खाएं ऐसा करने से पेट खराब हो सकता है।

एस्पिरिन टैबेलेट का उपयोग निम्न लक्षणों में किया जाता है-


1-बुखार या स्ट्रोक का खतरा होने पर

2-सीने में दर्द होने पर

3-जोड़ो का दर्द, बदन दर्द, सूजन होने पर

4-मांसपेशियों और सिर में दर्द होने पर






5-हार्ट फेल होने या दिल का दौरा

6-माइग्रेन के कारण दर्द

7-दांत में दर्द और रुमेटिक गठिया होने पर


बिना डॉक्टर के सलाह से एस्पिरीन टैबलेट का सेवन नहीं करना चाहिए अन्यथा इसके साइट इफेक्ट भी हो सकते है।


एस्पिरिन के दुष्प्रभाव


एस्पिरिन टैबलेट का इस्तेमाल अक्सर लोग बिना किसी चिकित्सकीय परामर्श के इसका सेवन कर लेते है जो आपके शरीर पर विपरीत प्रभाव डालते है। एस्पिरिन कई स्थितियों

को रोकने और उनका इलाज करने में मदद कर सकता है, लेकिन जो कोई भी एस्पिरिन ले रहा है, उसे पहले एक डॉक्टर से बात करनी चाहिए। 16 साल से कम उम्र के किसी

को भी आमतौर पर एस्पिरिन नहीं लेना चाहिए, केवल डॉक्टर के सलाह से दुर्लभ मामलों में ही इसका सेवन करना चाहिए। एस्पिरिन के सेवन से दुष्परिणाम के लक्षण निम्न

प्रकार के हो सकते है-


1-पेट या आंत की जलन

2-खट्टी डकार और जी मिचलाना

3-सांस लेने में कठिनाई, शरीर में ठण्ड का अनुभव

4-चक्कर आना

5-कम पेशाब होना

6-मांसपेशियों में तेजी के साथ दर्द होना

7-त्वचा में पीलापन होना

8-दिल की धड़कन अनियमित होना


क्लिक कर जानें- कोम्बिफ्लैम टैबलेट के बारें में


एस्पिरीन टैबलेट के इस्तेमाल में सावधानी


जहां पर एस्पिरिन टैबलेट के इस्तेमाल से शारीरिक बींमारियों में लाभ मिलता है वहीं अगर इसके उपयोग करने में सावधानी नहीं बरती जाए तो इसके गंभीर दुष्परिणाम हो

सकते है। अगर आप एस्पिरिन टैबलेट का इस्तेमाल करते है तो आपको निम्नलिखित बातों को जानना बहुत ही जरुरी हो जाता है-


1-गर्भवती महिला इस टैबलेट के इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर लें।

2-एस्पिरिन टैबलेट का सेवन शराब के साथ नहीं करें।

3-यदि आप गंभीर बीमारियां जैसे कि हृदय रोग, शुगर, उच्च रक्तचाप, और लिवर की समस्या से परेशान है तो बिना परामर्श लिए इसका सेवन नहीं करें।

4-16 वर्ष से कम आयु के बच्चों को एस्पिरिन दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए।

5-अस्थमा,दमा रोगियों और विटामिन K की कमी होने पर इस दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए।








शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये