बायो डी3 प्लस कैप्सूल | BIO D3 Plus Capsule In Hindi

16 अप्रैल 2019   |  डॉ मुकुल पांडेय   (28 बार पढ़ा जा चुका है)

बायो डी3 प्लस कैप्सूल | BIO D3 Plus Capsule In Hindi - शब्द स्वास्थ्य(health.shabd.in)

बायो डी3 प्लस कैप्सूल दवा का उपयोग लोगों में कम रक्त कैल्शियम के स्तर को रोकने या उनके इलाज के लिए किया जाता है, जिन्हें अपने आहार से पर्याप्त कैल्शियम नहीं मिलता है। इसका उपयोग कम कैल्शियम के स्तर जैसे अस्थि क्षय (ऑस्टियोपोरोसिस), कमजोर हड्डियों (ऑस्टियोमलेशिया / रिकेट्स), पैराथाइरॉइड ग्रंथि की गतिविधि में कमी (हाइपोपाराथायरायडिज्म) के कारण होने वाली स्थितियों के इलाज के लिए किया जा सकता है। इसका उपयोग गर्भवती महिलाओं को कैल्सियम की कमी को पूरा करने के लिए किया जाता है।


बायो डी3 प्लस कैप्सूल का लाभ व उपयोग | Uses & Benefits BIO D3 Plus Capsule In Hindi


कैल्शियम कार्बोनेट इफ़ेक्टिवस टैबलेट्स में सक्रिय घटक के रूप में कैल्शियम कार्बोनेट होता है जो पानी में फैलने पर कैल्शियम साइट्रेट के रूप में 500 मिलीग्राम कैल्शियम प्रदान करता है। इसकी गोलियाँ एक सामान्य आहार के अलावा, अतिरिक्त कैल्शियम प्रदान करती हैं, और इसका उपयोग उन स्थितियों के उपचार के लिए किया जाता है जिनमें शरीर के कैल्शियम के स्तर को बढ़ाने की आवश्यकता होती है। हड्डियों और दांतों के स्वस्थ विकास के लिए कैल्शियम आवश्यक है। बायो डी3 प्लस कैप्सूल का उपयोग निम्न प्रकार की बीमारियों के उपचार के लिए किया जाता है-


1.कैल्शियम के स्तर को बनाए रखने के लिए

2.अस्थि सबंधी रोग

3.रक्त की जमावट

4.विटामिन डी की पूर्ति

5.रक्त में कैल्शियम की कमी

6.हृदय संकुचन बल में वृद्दि

7.मासिक धर्म के बाद विकारों में

8.रक्त के प्रवाह को बनाए रखने में


कैल्शियम शरीर में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह नसों, कोशिकाओं, मांसपेशियों और हड्डी के सामान्य कामकाज के लिए आवश्यक है। यदि रक्त में पर्याप्त कैल्शियम नहीं है, तो शरीर हड्डियों से कैल्शियम लेगा, जिससे हड्डियां कमजोर होंगी। विटामिन डी आपके शरीर को कैल्शियम और फास्फोरस को अवशोषित करने में मदद करता है। सही मात्रा में विटामिन डी, कैल्शियम, और फॉस्फोरस का निर्माण हड्डियों को मजबूत रखने और रखने के लिए महत्वपूर्ण है।

इस दवा को हमेशा वैसा ही लें जैसा कि आपके डॉक्टर ने आपको बताया है एक गिलास पानी के साथ दवा को पूरा निगल लें। अपने चिकित्सक द्वारा अनुशंसित आहार के बारे में किसी भी सलाह का पालन करना जारी रखें।


बायो डी3 प्लस कैप्सूल के साइड इफेक्ट | Side Effects Of BIO D3 Plus Capsule In Hindi


बायो डी3 प्लस कैप्सूल के उपयोग से इसमें प्रयुक्त सामग्री से आपको एलर्जी होने पर इस दवा के आपको साइड इफेक्ट देखने को मिल सकता है। ऐसा हर किसी रोगी को ऐसा हो यह संभव नहीं है फिर भी अगर आपको किसी भी तरह से एलर्जी हो तो आप इस बारें में अपने डॉक्टर को सूचित करें। रोगियों में दवा के प्रभाव से निम्नलिखित दुष्परिणाम हो सकते है-


1.पेट में दर्द

2.सूजन

3.हड्डी और मांसपेशियों में दर्द

4.उलझन

5.कब्ज

6.पेट में गैस की समस्या

7.सिरदर्द

8.उच्च रक्तचाप

9.जी मिचलाना

10.खुजली

11.अधिक निंद्रा

12.बार-बार प्यास लगना

13.उल्टी

14.शरीर में कमजोरी

15.पेशाब का बार-बार आना


अगर आपको दवा के सेवन से किसी भी प्रकार के दुष्परिणाम का लक्षण दिखें तो आप तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करें ताकि आपके स्वास्थ्य पर घातक प्रभाव पड़ने से रोका जा सकें।


क्लिक कर जानें- सेहत बनाने के 5 आसान उपाय


बायो डी3 प्लस कैप्सूल के इंटरैक्शन | Interactions BIO D3 Plus Capsule In Hindi


अगर आप एक ही समय में एक से अधिक प्रकार की दवाईयों का सेवन कर रहे है तो वह बायो डी3 प्लस कैप्सूल के प्रभाव को कम कर सकता है और उसके साइड इफेक्ट का खतरें को बढ़ा सकता है। अगर आप किसी भी तरह की अन्य दवाओं का सेवन प्रतिदिन करते है तो आप इस बारें अपने डॉक्टर को सूचित करें ताकि इन दवाओं के दुष्प्रभाव से बचनें में आपकी सहायता हो सके। बायो डी3 प्लस कैप्सूल के साथ अन्य दवाओं के इंटरैक्शन की सूची निम्न रुप से है-


1.Phenytoin

2.Glucocorticoids

3.Bisphosphonates

4.Sodium fluoride drugs

5.Aspirin

6.Calcitriol

7.Alendronate

8.Acetaminophen

9.Ascorbic Acid


बायो डी3 प्लस कैप्सूल में सक्रिय सामग्री | Active Ingredients BIO D3 Plus Capsule In Hindi


बायो डी3 प्लस कैप्सूल 2 सामग्रियों के संयोजन से तैयार की जाने वाली औषधी है, यह दवा 10 कैप्सूल और 15 कैप्सूल के स्ट्रिप में बाजार में मौजूद है। दवा के निर्माण में प्रयुक्त सामग्री की सूची निम्न है।

1.Calcitriol - vitamin D- 0.25 McG

2.Elemental Calcium - 250 MG


क्लिक कर जानें- बीकोसूल कैप्सूल के उपयोग व लाभ की जानकारी


बायो डी3 प्लस कैप्सूल के सेवन से पहले सावधानियां | Precautions Before Uses BIO D3 Plus Capsule In Hindi


आप बिना डॉक्टर के सलाह के बायो डी3 प्लस कैप्सूल का सेवन नहीं करें क्योंकि विभिन्न प्रकार के रोगियों में इसके सेवन और खुराक की मात्रा भिन्न-भिन्न हो सकती है। अगर आप पहले से किसी गंभीर बीमारी से ग्रसित है तो आप इस बारें अपने डॉक्टर को सूचित करें। ताकि वे वर्तमान में उपयोग में लाए जा रहे दवाओं की सूची में बायो डी3 प्लस कैप्सूल के परस्पर प्रभाव की जांच कर सकें।


1.अगर आप गुर्दे की पथरी या इससे सबंधित किसी भी रोग से पीड़ित है तो आप दवा के सेवन से पहले डॉक्टर की सलाह जरुर लें।

2.गर्भवती महिलाएं चिकित्सकीय परामर्श के बिना दवा का सेवन नहीं करें।

3.बायो डी3 प्लस कैप्सूल की पहुंच बच्चों से दूर रखें।

4.दवा के सेवन के बाद आप ड्राइविंग या अन्य यांत्रिक मशीनों के परिचालन से दूर रहे।

5.यदि आप हृदय रोग की बीमारी से पीड़ित है तो आप दवा का सेवन बिना डॉक्टर के सलाह लिए बिना कदापि नहीं करें।

6.स्तनपान करानें वाली दवा का सेवन नहीं करें इससे उनके दूध की मात्रा में कमी आ सकती है आवश्यक होने पर डॉक्टर के परामर्श के बाद ही दवा का सेवन करें।




शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये