गर्भावस्था में क्या ना खाएं - Foods to avoid during Pregnancy in Hindi

13 मई 2019   |  डॉ.स्नेहा दुबे   (9 बार पढ़ा जा चुका है)

Foods to avoid during Pregnancy in Hindi- प्रेग्नेंसी महिलाओं के लिए बहुत जरूरी होती है और अगर वे इस दौर से नहीं गुजरती तो उनमें एक अधूरेपन का एहसास होता है. गर्भावस्था के समय स्वस्थ और सेहतमंद रहने के लिए सही आहार लेना बहुत जरूरी होता है. प्रेग्नेंसी के दौरान सही आहार से महिलाओं का स्वास्थ्य अच्छा रहता है इसके साथ ही शिशु का शारीरिक और मानसिक विकास भी सही तरीके से हो पाता है. गर्भावस्था में क्या खाएं क्या ना खाएं इस बात की चिंता भी रहती है क्योंकि गर्भवती मां जो भी खाती है उसका असर बच्चे पर सीधा पड़ता है. इसलिए आपको गर्भावस्था के समय सही चीजों का सेवन करना चाहिए. आज मैं आपको इन्हीं चीजों के बारे में बताने जा रही हूं.


आहार

मां बनने का एहसास ही अलग होता है जिसे सिर्फ एक गर्भवती महिला ही महसूस कर सकती है. जब मां बनने का पहला पहला एहसास होता तो उन्हें नहीं पता होता है कि वे किन किन बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए. गर्भावस्था के दौरान अपने खान-पान में कई बदलाव लाना चाहिए क्योंकि इन बातों का जानना एक मां के लिए बहुत जरूरी होता है. इसके साथ ही कई सावधानियां भी रखना चाहिए जिससे आपको कोई परेशानी नहीं होना चाहिए.


गर्भावस्था में रखें इन बातों की सावधानी- Caution in pregnancy


प्रेग्नेंसी के समय महिलाओं को बहुत सी सावधानियां बरतनी पड़ती हैं और ऐसे में उन्हें हर तरफ ख्याल रखने की हिदायत दी जाती है जो एक गर्भवती महिलाओ ंके लए जरूरी भी होती है. मगर मेरे बताए इन 6 सावधानियों के बारे में आपको जरूर जानना चाहिए क्योंकि ये गर्भवती महिलाओं को पहले महीने से 9वें महीने की प्रेग्नेंसी तक फायदा देती है.


1. फोलिक एसिड की पर्याप्त मात्रा लेना जरूरी होता है. हरी पत्तियों में पाया जाने वाला फोलिक एसिड बच्चे के जन्म से जुड़ी कई परेशानियों से बचाता है.

2. गर्भावस्था में फल खाना जरूरी होता है लेकिन कोई भी फल खाने से पहले सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि फल अच्छी तरह से धुला है या नहीं, वरना इससे संक्रमण का खतरा हो सकता है.

3. प्रेग्नेंसी के समय अंडा, चिकन या मछली खाना फायदेमंद होता है लेकिन इन्हें अच्छे से पकाकर ही खाना चाहिए वरना इसे अवॉएड ही कर दें.

4. जितना ज्यादा हो सके प्रोटीन वाली चीजों का सेवन हो आपका बच्चा उतना ही स्वस्थ जन्म लेगा. आप चाहें तो दालें, बीजें और दूध को अपनी डाइट में शामिल करके पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन प्राप्त कर सकते हैं.

5. गर्भावस्था के दौरान चिकनी जगहों पर जाने और भारी सामान उठाने से बचना चाहिए. क्योंकि ऐसा करना आपको और आपके बच्चे की जान को खतरे में डाल सकता है.

6. गर्भवती महिलाओं को स्मोकिंग और एल्कोहल पदार्थों के सेवन से बचना चाहिए क्योंकि ऐसा करना आपकी सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है या फिर आपके बच्चे को शरीर के किसी अंग से अपंग बना सकता है.


गर्भावस्था में क्या खाएं क्या नहीं ? Avoid food during Pregnancy


गर्भावस्था में हरी सब्जियां खाना बहुत लाभदायक होता है, लेकिन इस बात का खास ख्याल रखना चाहिए कि हरी सब्जियां ताजे और स्वच्छ हों. मगर कुछ ऐसी भी चीजें हैं जिनका सेवन आपको बिल्कुल नहीं करना चाहिए. प्रेग्नेंसी के दौरान आपको इन चीजों से दूरियां बना लेनी चाहिए क्योंकि इससे आपके बच्चे को सही पोषक तत्व मिल सकते हैं और आपकी डिलीवरी भी अच्छे से हो सकेगी. आपको एक बात याद रखनी चाहिए कि जरा सा गलत आहार ना केवल आपको नुकसान पहुंचा सकता है बल्कि आपके गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए भी समस्याएं ला सकती है.

इन फलों से बचें- वैसे तो गर्भावस्था में फल खाने की सलाह डॉक्टर्स देते हैं लेकिन कुछ ऐसे फल भी होते हैं जिन्हें नहीं खाना चाहिए. इन फलों में आडू, अंगूर, अनानास और पपीता है. अंगूर को आपने कम से कम शुरुआती समय के तीन महीने तक नहीं खाना चाहिए. इसमें लीची भी शामिल होती है जिसकी तासीर गर्म होती है, जबकि ये स्वाद में मीठी होती है. इसे प्रेग्नेंसी में खाना मना होता है क्योंकि तासीर गर्म होने की वजह से बच्चे को नुकसान कर सकता है.

इन सब्जियों से बचें- गर्भवती महिलाओं के लिए सबसे महत्वपूर्ण सलाह होती है कि वो कच्ची या पाश्चरीकृत (क्रीम युक्त) सब्जियां या फल बिल्कुल नहीं खाएं. इसके साथ ही महत्वपूर्ण है कि आप जो भी खाएं वो अच्छे से धुल कर और साफ करके खाएं. ये गर्भावस्था के दौरान आपको संक्रमण से बचाने के लिए बहुत जरूरी होता है.

कच्चा अंडा से बचें- गर्भावस्था के समय कच्चे या आधे पके हुए अंडे को नहीं खाना चाहिए. इसमें साल्मोनेला के संक्रमण होने का खतरा होता है, जो उल्टी और दस्त का कारण बन सकता है और बच्चे के स्वास्थ्य को भी प्रभावित करता है.

चाय-कॉफी से बचें- प्रेग्नेंसीमें थकावट के कारण नींद बहुत आती है और इस दौरान बहुत सी महिलाएं चाय या कॉफी लेना पसंद करती हैं. चाय तो दिन में दो बार चल जाती है लेकिन कॉफी का सेवन बंद कर देना चाहिए. कॉफी पीना भले ही आपको फ्रेश करता हो लेकिन आपके बच्चे के लिए ये सही नहीं होती है. इसे पीने से शरीर में गर्मी बढ़ती है और कभी-कभी ये अबॉर्शन का कारण बन जाता है.

फिश से बचें- बहुत सी महिलाओं को इस दौरान फिश खाना पसंद आता है और ये प्रेग्मेंसी में ठीक भी रहता है लेकिन ज्यादातर महिलाओं को प्रेग्नेंसी में इसे खाने के दो खतरे हो सकते हैं. पहला फिश की तासीर गर्म होती है और दूसरा कई फिश बीमार भी हो सकती हैं और उसे खाने से आपको फू़ड प्वॉइजिंग होने का डर रहता है.

फ्रोजेन फूड से बचें- प्रेग्नेंसी के दौरान फ्रोजेन और प्रिजवेटिव वाले फूड्स को बिल्कुल हाथ नहीं लगाना चाहिए. ये आपकी और आपके बच्चे की सेहत को खतरे में डाल सकता है. फ्रेश और घर का बना खाना और हाइजैनिक फूड ही आपको नौ महीने तक खाना चाहिए.

कच्चे अंकुरित बीज- कच्चे बीजों को अंकुरित करके खाना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है लेकिन गर्भावस्था के दौरान इनका सेवन करने से आपको बचना चाहिए. प्रेग्नेंसी के समय क्या ना खाएं में अंकुरित बीज शामिल करें क्योंकि इसके अंकुरित बीजों में बैक्टीरिया पाए जाते हैं जो गर्भावस्था में नुकसान कर सकते हैं.


प्रेग्नेंसी से जुड़ी और खबरों को यहां पढ़ें-

9 Month Pregnancy In Hindi (प्रेग्नेंसी का 9वें महीने में बच्चे का विकास )

Pregnancy Me Pet Dard(प्रेग्नेंसी में पेट दर्द और उसके उपचार)

Precautions During Pregnancy In Hindi (प्रेग्नेंसी में रखें ख्याल और बरतें सावधानी)

8 Month Pregnancy Baby Movement In Hindi(8 महीने की प्रेग्नेंसी में बच्चे का विकास)



शब्द हैल्थ पर अन्य चर्चायें

© शब्द हैल्थ (health.shabd.in)

01
डॉ.स्नेहा दुबे
जनरल फिजीशियन
  • हमारे डॉक्टर से निःशुल्क जानिए की आपकी समस्या का सर्वोत्तम समाधान अंग्रेजी, आयुर्वेदिक, या फिर होम्योपैथिक मे से किसमे उपलब्ध है?
  • नमस्ते!
  • क्या आपको कोई स्वास्थ्य समस्या है?

    हाँ नहीं
  • अपनी समस्या बताइये

    बताइये
  • आप अपने पूरे परिवार का साल भर का मेडिकल कॉन्सल्टेशन केवल 997 रुपये मे पा सकते हैं।

    एक्टिवेट कीजिये